Cold winter

रोहतांग, लाहौल-स्पीति और धौलाधार की पहाडिय़ों पर हुई बर्फबारी

हिमाचल दस्तक टीम। केलांग/धर्मशाला

रोहतांग, लाहौल-स्पीति और धौलाधार की पहाडिय़ों पर रविवार को सीजन की पहली हल्की बर्फबारी हुई। इससे तापमान में गिरावट आई है और ठंड बढ़ गई है।  रविवार को स्पीति को लाहौल से जोडऩे वाले कुंजम दर्रे सहित बारालाचा, नीलकंठ जोत, लेडी ऑफ केलांग, छोटा व बड़ा शिगरी गलेशियर सहित समस्त ऊंची चोटियों ने बर्फ  की चादर ओढ़ ली है। मनाली की ओर रोहतांग सहित धुंधी जोत, रानी सुई जोत, हामटा जोत, इंद्र किला जोत, मकरवेद शिकरवेद की पहाडिय़ों सहित समस्त ऊंची चोटियों पर बर्फ  के फाहे गिर रहे हैं।

इससे लाहुल घाटी में ठंड के बढऩे से लोगों ने भी अपने इंतजाम शुरू कर दिए हैं। लोग बर्फबारी से लडऩे के लिए तैयार हो गए है। हलांकि रोहतांग सहित आसपास के पहाडिय़ों में काफी हल्की बर्फबारी हुई है। रविवार को लाहौल घाटी सहित मनाली में भी मौसम दिनभर खराब रहा। हालांकि बीच-बीच में हल्की बारिश होती रही। दोपहर के बाद ऊंची पहाडिय़ों में बर्फ के फाहे गिरने शुरू हो गए और चोटियों में बर्फ की सफेदी छा गई। वहीं, धर्मशाला की धौलाधार की पहाडिय़ों पर भी हल्का हिमपात हुआ है।

अक्तूबर माह में पहाडिय़ों पर हुए हिमपात से पर्यटक उद्यमी आगामी महीनों में पहाडिय़ों पर हिमपात की संभावना के साथ पर्यटन कारोबार में इजाफा होने की उम्मीद लगाए हुए हैं। धौलाधार पहाडिय़ों पर हिमपात के साथ शुरू हुई सर्द हवाओं ने लोगों को गर्म कपड़े निकालने को मजबूर कर दिया हलके हिमपात ने होटल कारोबारियों के चेहरे खिल गए हैं। वहीं, पर्यावरणविदों का कहना है कि आगामी महीनों में इस तरह से बर्फबारी का सिलसिला जारी रहा तो निश्चित तौर पर धर्मशाला के पर्यटन में इजाफा होगा।

प्रदेश के कुछ स्थानों पर आज बारिश-बर्फबारी के आसार

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला

प्रदेश के कुछेक स्थानों में सोमवार को बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग के मुताबिक मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर बारिश हो सकती है। ऊंचाई वाले क्षेत्रों में एक या दो स्थानों पर बारिश व बर्फबारी की संभावना है। इससे प्रदेश के तापमान में गिरावट आएगी। पिछले 24 घंटों में प्रदेश के न्यूनतम तापमान में गिरावट के कारण रात को ठंड बढ़ गई है। अधिकतम तापमान 1 से 2 डिग्री सेल्सियस तक गिरा है।

बारिश और बर्फबारी के बाद तापमान में और अधिक गिरावट दर्ज की जा सकती है। 24 घंटों के दौरान डलहौजी का न्यूनतम तापमान में सबसे अधिक 3.3 डिग्री सेल्सियस तक गिरा है। इसके अतिरिक्त चंबा का न्यूनतम तापमान में 2.5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। शिमला के न्यूनतम तापमान में भी 1.7 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है।

इसी तरह से मंडी 1.0, नाहन 0.9, सोलन 0.5, कल्पा 0.4 व सुंदरनगर के न्यूनतम तापमान में 0.1 डिग्री सेल्सियस तक गिरा है। आने वाले दिनों में ये क्रम जारी रहेगा। ऐसे में अब प्रदेशवासियों को ठंड से निपटने के लिए तैयार रहना होगा।

प्रदेश के मध्यम ऊंचाई व ऊंचाई वाले क्षेत्रों में एक या दो स्थानों पर बारिश औ बर्फबारी के आसार हैं। इससे तापमान में गिरावट दर्ज की जा सकती है। -डॉ. मनमोहन सिंह, निदेशक मौसम विज्ञान केंद्र शिमला।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams