News Flash
rajendra rana

कहा बीजेपी सरकार हजारों करोड़ का नया ऋण लेने की तैयारी में

हिमाचल दस्तक। सुजानपुर
विधायक राजेंद्र राणा ने प्रदेश सरकार पर जीएसटी और कर्ज लेने के मामले में जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया है। जारी एक बयान में राजेंद्र राणा ने कहा कि एक तरफ प्रदेश के भाजपा नेता जमकर जीएसटी का गुणगान कर रहे हैं । वहीं दूसरी तरफ जीएसटी की वजह से प्रदेश को टैक्स से होने वाली कमाई आधी रह गई है और इसे मीडिया भी अपनी सुर्खियां बना रहा है। राजेंद्र राणा ने कहा कि मोदी सरकार ने जिस प्रारूप में जीएसटी को लागू किया है उससे प्रदेश के राजस्व में भारी कमी आई है और इससे प्रदेश की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ा है।

उन्होंने कहा मोदी जी के हिमाचल प्रेम की दुहाई देने वाले भाजपा नेताओं व प्रदेश नेतृत्व को यह मुद्दा केंद्र सरकार के समक्ष उठाना चाहिए। लेकिन ऐसा करने की बजाय भाजपा नेता कांग्रेस को कोसने में ही अपनी सारी ऊर्जा लगा रहे हैं। राजेंद्र राणा ने कहा कि भाजपा जब विपक्ष में थी तो आए दिन भाजपा नेता वीरभद्र सरकार पर कर्ज लेने के आरोप लगाते नहीं थकते थे लेकिन प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद 6 महीने में ही सरकार डेढ़ हजार करोड़ रुपए का ऋण ले चुकी है और हजारों करोड़ का नया ऋण लेने की तैयारी में है।

कहा जनता को प्रदेश सरकार के कार्यकाल से अब तक निराशा ही हासिल हुई

उन्होंने कहा केंद्र में भाजपा की सरकार होने के बावजूद केंद्र से प्रदेश के नेता व प्रदेश की सरकार आर्थिक पैकेज लाने में नाकाम रही है। उन्होंने कहा कर्ज लेकर घी पी रही प्रदेश सरकार राज्य के विकास को नई दिशा देने में भी नाकाम रही है और कांग्रेस सरकार के कार्यकाल की योजनाओं के नाम बदल कर ही काम चलाया जा रहा है।

उन्होंने कहा जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने और जनता के साथ किए गए चुनावी वायदों को पूरा करने की बजाय भाजपा नेताओं के पास दो ही काम रह गए हैं। पहला काम कांग्रेस की पानी पी.पीकर कोसने का और दूसरा काम मोदी सरकार के गुणगान के लिए लगी होड़ में एक दूसरे को पछाडऩे का रह गया है। उन्होंने कहा जनता को प्रदेश सरकार के कार्यकाल से अब तक निराशा ही हासिल हुई है।

यह भी पढ़ें – वीरभद्र सरकार की एक और योजना पर संकट

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams