News Flash
jai ram thakur

पूर्व सरकार ने पहली कैबिनेट के बाद बना दिए थे 9 CPS – जयराम

मुख्यमंत्री बोले, दो बार लोन लिमिट को भी तोड़ा था पूर्व सरकार ने

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विधानसभा में कहा कि यदि उनकी सरकार में अब तक मुख्य संसदीय सचिवों यानी CPS की नियुक्ति नहीं हुई तो यह भी पैसा बचाने की दिशा में उठाया गया एक कदम है। हम राजनीतिक लोग हैं। आगे राजनीतिक परिस्थितियां क्या रहती हैं, यह नहीं कर सकता है। हम कोशिश कर रहे हैं जहां बचत हो सकती है करें। वह प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस विधायक सुखविंद्र सुक्खू और राजेंद्र राणा के सवालों का जवाब दे रहे थे।

जयराम ठाकुर ने याद करवाया कि पूर्व कांग्रेस सरकार के बनने के बाद पहली ही कैबिनेट मीटिंग के बाद 9 सीपीएस नियुक्त कर दिए। हम तो चेयरमैन, वाइस चेयरमैन पर भी काफी संयम बरत रहे हैं। जयराम ने कहा कि मेरी कैबिनेट के मंत्री 3-3 लाख किमी चल चुकी गाडिय़ां प्रयोग कर रहे हैं। ये गाडिय़ां अगर 5 लाख किमी भी चलेंगी तो चलाएंगे, लेकिन फालतू खर्च नहीं करेंगे। जयराम ठाकुर ने सदन में जानकारी दी कि पूर्व कांग्रेस सरकार ने वर्ष 2013-14 और 2014-15 में दो बार तय लोन लिमिट को तोड़ते हुए ज्यादा लोन लिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सबको पता है कि राज्य की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। बावजूद इसके हमने अतिरिक्त संसाधन जुटाने के लिए माइनिंग, फॉरेस्ट और हाइड्रो क्षेत्र को चिन्हित किया है। सुप्रीमकोर्ट ने तीन फॉरेस्ट रेंजों में खैर कटान को मंजूरी दे दी है। इससे कुछ राहत मिलेगी। माइनिंग पर हो रही कार्रवाई से कइयों को तकलीफ है, लेकिन हम वैध माइनिंग के लिए प्रयासरत हैं। इस बारे में यदि पूर्व सरकार ने समय रहते कोई नीति बनाई होती तो आज हालत काफी बेहतर होती। उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि हिमाचल में सरकार चलाने के लिए लोन लेना मजबूरी है।

46502 करोड़ कर्ज, पर विकास नहीं थमने देंगे

जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य पर इस समय 46502 करोड़ रुपये का कर्ज है। वर्तमान सरकार ने पिछले तीन महीनों में महज 1000 करोड़ का लोन लिया है और इसमें भी अधिकांश पूर्व सरकार के लोन चुकाने के लिए है। नेट लोन केवल 265 करोड़ है। बावजूद इसके हम विकास कार्य नहीं थमने देंगे। हम कोशिश करेंगे कि लोन पर निर्भरता कम हो, लेकिन विकास के लिए धन की कमी नहीं आने देंगे।

कैबिनेट के फैसले – वापस होगा कांग्रेस सरकार का स्पोट्र्स बिल

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams