defensive sukhu campus

पार्टी प्रदेशाध्यक्ष ने की एकजुटता की वकालत

हिमाचल दस्तक। सोलन
कंडाघाट में कांग्रेस की जनसभा में पार्टी के कद्दावर नेता व पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू एक मंच पर नजर आए। इसमें कोई संशय नहीं कि ज्यादा बोलबाला वीरभद्र गुट का ही रहा और सुक्खू गुट बैकफुट पर रहा। वीरभद्र सिंह ने एक बार फिर ये भी जता दिया कि उनके बगैर लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की राह आसान नहीं है, जमीनी कार्यकर्ताओं पर उनकी पकड़ बेजोड़ है। वहीं प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू वीरभद्र के आगे रक्षात्मक दिखे और उन्होंने भी पार्टी में एकजुटता की वकालत कर ये संदेश देने का प्रयास किया कि पार्टी में कोई अंतरकलह नहीं है।

अपने संबोधन के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सूक्खू ने कहा कि मोदी सरकार ने साढ़े चार साल में सिर्फ जुमले ही दिए हैं। उन्होंने कहा कि न तो सोलन जिले में टमाटर आधारित फूड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित हुई और न ही सेब के आयात मूल्य में पचास फीसदी का इजाफा हुआ। सिरमौर का हाटी समुदाय एसटी के दर्जे तो तरस रहा है। पीएम नरेंद्र मोदी ने हिमाचल को कुछ नहीं दिया। सुक्खू जयराम सरकार पर भी हमलावर रहे।

उन्होंने कहा कहा कि जब से प्रदेश में जयराम ठाकुर की सरकार आई है तब से प्रदेश में केवल घोषणा की जा रही है।

भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेने पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विधानसभा में घोषणा की थी कि 100 दिनों के अंदर सभी नेशनल हाईवे की डीपीआर बना दी जाएगी, लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ।

इस दौरान सोलन विधायक धनीराम शांडिल ने आरोप लगाया कि जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी हैं तब से सोलन में कांग्रेस सरकार के समय से शुरू हुए विकास कार्य रुके पड़े हैं। इस मौके पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ठाकुर, पूर्व विधायक सोहन लाल, पूर्व विधायक राम कुमार,प्रदेश कांग्रेस कमेटी सचिव विनोद सुल्तानपुरी, प्रदेश सचिव अमित नंदा, सभी ब्लॉक अध्यक्ष और पार्टी के कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें – पार्टी विरोधी काम पर मनीष को कमान क्यों

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams