dengue jaundice

नादौन उपमंडल में 60 पहुंचा पीलिया से पीडि़तों का आंकड़ा

रविंद्र चंदेल। हमीरपुर
हमीरपुर के नादौन उपमंडल में पीलिया के मरीजों का आंकड़ा 60 पहुंच गया है। दंगड़ी व लाहड-कोटलू के आसपास के गांवों में पीलिया का प्रकोप बढ़ गया है। स्वास्थ्य विभाग ने साफ कहा है कि दंगड़ी पेयजल योजना जो 64 गांवों को पानी पिला रही है के पानी में मल के अंश मिले होने के कारण पीलिया का प्रकोप बढ़ा है। पिछले हफ्ते पीलिया से पीडि़त रोगियों की संख्या 36 थी। अब 1 युवक की मौत के बाद यह आंकड़ा 60 पर जा पहुंचा है।

IPH व स्वास्थ्य विभाग दूषित पानी के सैंपलों के टेस्ट को लेकर एक-दूसरे के सिर पर फोड़ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की माने तो फिजिकल केमिकल व बैक्टीरियल सैंपल की रिपोर्ट पूरी तरह संदेहास्पद है, लेकिन आईपीएच विभाग के अनुसार पीने के पानी की स्कीम से भरे गए सभी सैंपल ठीक पाए गए हैं।

हालांकि वायरस टेस्ट सेंपल की रिपोर्ट के परिणाम आने के बाद ही असली कारण सामने आएंगे। उधर, IPH विभाग के अधिशाषी अभियंता नीरज भोगल ने कहा कि मुख्य स्रोत परकुलेशन वेल की ओर आने वाले खड्ड के पानी का बहाव दूसरी तरफ मोड़ा है, ताकि परकुलेशन वेल में खड्ड के पानी का रिसाव न हो। वहीं बीएमओ नादौन डॉ. अशोक कौशल ने बताया कि प्रभावित क्षेत्रों में जागरुकता अभियान व क्लोरीन की गोलियां बांटी जा रही हैं। काफी हद तक स्थिति नियंत्रण में है।

अब तक डेंगू के 62 पॉजिटिव मामले आ चुके हैं सामने

मनमोहन संधू। परवाणु
परवाणु में डेंगू के अभी तक 62 मामले सामने आ चुके हैं और ईएसआई अस्पताल में किए जा रहे डेंगू के टेस्ट में रोजाना पॉजिटिव मामले आने का सिलसिला जारी हैं। परवाणु के साथ लगते ग्रामीण क्षेत्र कामली के लोग सबसे ज्यादा डेंगू के शिकार हुए हैं। अकेले कामली से ही अभी तक करीब 25 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि कालका, टकसाल व परवाणु के विभिन्न सेक्टरों में भी कुछ लोग डेंगू की चपेट में आए हैं।

बता दें कि परवाणु में डेंगू का प्रकोप हर साल कहर बरपा रहा है। और यहां पर पूरे जिला भर में सबसे पहले डेंगू का मामला सामने आता हैं। वर्ष 2015 में तो परवाणु में पूरे जिला भर से अधिक मामले सामने आए थे और वर्ष 2016 में भी डेंगू का डंक ऐसा ही बना था। इसके बाद अब इस वर्ष भी डेंगू रूकने का नाम नहीं ले रहा हैं। हालांकि डेंगू से निपटने के लिए एक विशेष कमेटी का भी गठन किया गया था और जिला स्वास्थ्य विभाग के बड़े अधिकारियों ने भी परवाणु का दौरा किया था।

जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लाउड स्पीकरों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का काम भी शुरू किया था। ईएसआई अस्पताल परवाणु के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विनोद कपिल ने बताया कि अभी तक डेंगू के 62 मामले सामने आ चुके है, जिसमें अधिकतर मामले कामली के हैं।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams