guideline bad weather

बिजली व तूफान के बीच बरतें सावधानियां

  • आंधी तूृफान की चेतावनी हो तों खुलें में न करें कार्य
  • मौसम केंद्र ने आगामी दिनों में दी है तेज बारिश व तूफान की चेतावनी

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
आगामी दिनों में खराब मौसम की चेतावनी जिला प्रशासन व राज्य आपदा प्रबंधन ने लोगों ने गाईडलाइन जारी कर है। प्रबंधन ने खराब मौसम के बीच होने वाली तेज बारिश व तूफान में सावधानियां बरतने की सलाह दी है। क्योंकि सावधानी ही इस दौरान होने वाली दुर्घटनाओं से बचा सकती र्है। बीते वर्षों में बारिश, तेज तूफान और व्रजपात से भारी नुकसान हुआ है, वहीं कई मौते भी हुई है। तूफान व ब्रजपात यानी बिजली गिरना जानलेवा है। इससे सावधानियां बरतने से ही बचा जा सकता है।

अभी हाल में चंबा के जनेरा में भी बिजली गिरने दो बच्चों की मौत ब्रजपात से हो गई। जब वह स्कूल से वापिस घर आ रहे थे। यही नहीं पिछले वर्षों में तूफान व बिजली के गिरने से भारी नुकसान व मौतें हुई थी। आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2007 में कांगड़ा में बिजली गिरने से मुख्य टेलीफोन एक्सचेंज जल गई थी। वर्ष 2010 में चामुंडा में तूफान व बिजली गिरने से 120 भेड़ें जल गई थी। 2012में चंबा के बनीखेत में ब्रजपात से ही दो व्यक्तियों की जान चली गई थी। वहीं इसी वर्ष एक महिला की मौत भी तूफान में फंसने से मौत हुई थी।

तूफान में क्या करें, क्या नहीं

आपादा प्रबंधन की ओर से जारी गाइडलाइन में बताया गया है कि यदि किसी स्थान विशेष पर आंधी तूफान या वर्षा की भविष्यवाणी की गई हो तो ऐसे में बाहर के खुले वातवरण में कार्य करना जोखिम भरा हो सकता है। ऐसे स्थितिमें कार्य का मौसम के सही होने तक टाल देना हर उचित होता है।

यदि आप कहीं खुले में हो और बिजली कड़क रही या तूफान हो तो ऐसे में खंबो, दिवारों, पेड़ों, टावरों आदि से दूृर रहे। संभव हो तो किसी चट्टान की ओट लें। बादलों की गर्जना के साथ बिजली गिरने की संभावना होती है, बिजली गिरने की संभावाना हो तों जमीन की ओर झुुकें व घुटनों को हाथों के सहारे चलते हुए किसी सुरक्षित स्थान पर पहुंचें।

घर के अंदर बैठे परिवारों को हिदायत

यदि बाहर तूफान व बिजली कड़क रही हो तो सभी विद्युत उपकरण की तार प्लगों से निकाल लें, टेलीविजन व रेडियो की बाहरी एंटीना से जोडऩे वाली तार को भी निकाल लें। कंप्यूटर, वीडियो गेम, टेलीफोन व धातु के खंबों, पाईपों, नलों, दरवाजों, खिड़कियों को छूंए व इनसे दूर रहें, क्योंकि यह सभी विद्युत संचालक होते हैं और वज्रपात के दौरान इनमें विद्युत प्रवास हो सकता है।

रिपोर्टर -राजेश कौंडल

यह भी पढ़ें – पत्नी को मनाने घर पहुंचा कैदी शनिवार को वापिस जेल लौटा

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams