News Flash
back door root permit

आरटीए की बैठक में बोले परिवहन विभाग के निदेशक कैप्टन जेएम पठानिया

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। धर्मशाला
परिवहन विभाग मनमर्जी व बैक डोर से रूट परमिट नहीं देगा। यदि किसी निजी ऑपरेटर ने बैक डोर से रूट लेने का प्रयास किया, तो उसके परमिट को रद करते हुए उस पर विभागीय कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी। यह बात परिवहन विभाग के निदेशक कैप्टन जेएम पठानिया ने शुक्रवार को धर्मशाला आरटीए की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।

आरटीओ कार्यालय धर्मशाला में आयोजित बैठक में निजी बस ऑपरेटर्स ने भाग लिया। पठानिया ने कहा कि प्रदेश में किसी भी बस ऑपरेटर को उनकी मनमर्जी के अनुसार विभाग रूट परमिट नहीं दिया जाएगा, वाहे एचआरटीसी हो या निजी बस ऑपरेटर्स, सभी को विभागीय कार्रवाई पूरी करने पर ही परमिट जारी किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि अगर जिला के निजी बस ऑपरेटर्स आरटीओ कार्यालय में 15 तारीख तक अपनी बसों के रूट परमिट जमा नहीं करवाते हैं, तो उनके खिलाफ भी सख्त कदम उठाया जाएगा। कैप्टन जीएम पठानिया ने बताया कि लंबे समय से निजी बस ऑपरेटरों के साथ आरटीए की बैठक नहीं हुई थी।

स्कूल बसों की चैकिंग कर रिपोर्ट दें आरटीओ

कैप्टन पठानिया ने बताया कि जिला में स्कूल बस हादसे न हो इसके लिए आरटीओ को निर्देश दिए हैं कि वह 10 दिन के अंदर जिला के निजी स्कूल बसों की जांच कर उसका पूरा ब्यौरा निदेशक को दें, क्योंकि जिला की अधिकतर स्कूली बसें ऐसी हैं जिनमें न तो सीसीटीवी कैमरे लगे हैं और न ही अन्य गाइड लाइन को चालक इस्तेमाल कर रहे हैं। जांच के बाद अगर निजी स्कूली बसों में खामियां पाई जाती हैं, तो उनकी मान्यता भी रद की जाएगी।

बद्दी, जसूर में बनेंगे ट्रांसपोर्ट नगर

पठानिया ने बताया कि परिवहन विभाग द्वारा बद्दी व जसूर में ट्रांसपोर्ट नगर स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने बताया की विभाग के पास शिकायतें आ रही थी कि सड़क किनारे खड़े ट्रक भी हादसों को न्यौता देने का काम कर रहे हैं, जिसे ध्यान में रखते हुए विभाग ने जसूर और बद्दी में नगर ट्रांसपोर्ट बनाने का फैसला लिया है और इसके लिए जमीन भी विभाग को मिल गई है और जल्द इस प्रक्रिया पर कार्य भी शुरू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें – कांगड़ा में दुकानदारों ने एक-दूसरे को किया लहूलुहान

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams