drang villagers

सड़क को खोलने में लोक निर्माण विभाग नही उठा रहा कोई कदम – ग्रामीण

ललित ठाकुर । पधर

द्रंग विधानसभा क्षेत्र के इलाका दुंधा की दोहड़ी-चौरा वाया सरोंण लगभग आठ किलोमीटर सड़क लोक निर्माण विभाग और पूर्व की कांग्रेस सरकार की बिडम्बना का शिकार रही है। क्योंकि जिस सड़क को पूर्व मंत्री ने लोगो के लिए समर्पित किया गया था वह अभी तक 108 एम्बुलेंस सेवा के लिए पास ही नहीं हुई है। यह सड़क लगभग आधा दर्जन गांव के लोगो को परिवहन सुविधा से जोड़ती है लेकिन बरसात के खत्म होने के बाबजूद भी लोक निर्माण विभाग के अधिकारी इसकी और कोई भी ध्यान नहीं दे रहें है।

जिस कारण लोगों को रोजमर्रा की चीजें आज इस आधुनिक दौर में भी पीठ पर उठा कर अपने गंतव्य तक पहुंचानी पड़ रही है। वही अगर गांव में कोई व्यक्ति बीमार पड़ जाएं तो उक्त व्यक्ति को कुर्सी या पालकी पर उठा कर मुख्य राज मार्ग पर पहुंचाना पड़ता है। जानकारी देते हुए पूर्व बार्ड सदस्य उधम सिंह, सुंदर सिंह, शेर सिंह, वीरी सिंह, नागेन्द्र सिंह, इंद्र सिंह, काकू राम , देव राज सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि 27 अप्रेल 2017 को इस सड़क को पूर्व मंत्री व विधायक कौल सिंह ठाकुर ने जीप योग्य पास किया था।

लोगों ने बताया की बरसात में सड़क पर जगह जगह ल्हासे गिरने से सड़क आज तक बन्द है। लोगो ने बताया कि सड़क को खोलने के लिए पंचायत प्रतिनिधियों और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को कई बार बताया लेकिन सड़क को बहाल करने के लिए कोई प्रयास नही किये गए। उक्त लोगों ने बताया कि सरोंण, बनेरडी, कुमाहरड़ा, दुंधा, करनाल गांव की हजारों की आबादी आज भी आजादी से पहले का जीवन यापन कर रही है क्योंकि सड़क सुविधा होने के बाबजूद भी अपना सामान पीठ पर उठा कर ले जाना पड़ रहा है।

गांव का जीवन शहर के जीवन से बहुत भिन्न है

लोगों का कहना है कि जब सड़क को जनता के लिए समर्पित कर पास कर उसका उद्घाटन हो गया और उसके बाद भी सड़क बन्द रहे तो इससे बड़ी बिडम्बना लोगो के लिए क्या हो सकती है। लोगों ने विधायक जवाहर ठाकुर और प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से मांग की है सड़क को जल्द खोलने के आदेश लोक निर्माण विभाग पधर को दिए जाएं और इस तरह की अगर और भी सड़के बन्द हो तो उन्हें भी तुरन्त खोला जाए ताकि लोगों को परिवहन सुविधा मिल सके। क्योंकि गांव का जीवन शहर के जीवन से बहुत भिन्न है। जिस कारण शहर की सुविधा ग्रामीण क्षेत्र में नही मिलती और ग्रामीण क्षेत्र के लोगो को आज भी कठिनाई के तौर पर अपना जीवन व्यतीत करना पड़ता है ।

सड़क से मलबा हटाने को विभाग की टीम गयी थी लेकिन सड़क से निचली तरफ लोगो का घास है और लोग नीचे मलबा नही फेकना दे रहे है लोगों ने विभाग से एक हप्ते का समय मांगा है, उसके बाद सड़क पर पड़े मलबे को हटा दिया जाएगा और सड़क वाहनों के लिए चालू की जाएगी। उन्होंने बताया कि यह सड़क 108 एम्बुलेंस के लिए पास नही है। सिर्फ राजनीति लाभ पहुंचाने के लिए पूर्व सरकार ने उद्घाटन किये थे। – चमन चन्देल, सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग, पधर

यह भी पढ़ें – चुराह में हुई सीजन की पहली बर्फबारी, मटर की फसल तबाह

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams