polling surpasses 74 percent

435  बूथों का डाटा आना अभी बाकी

  • इससे पहले 2003 में पड़े थे सबसे ज्यादा 74.51 फीसदी वोट
  • कई चुनाव क्षेत्र 80 फीसदी पार, कांगड़ा में महिलाओं ने पछाड़ा

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला

हिमाचल विधानसभा चुनाव में जागरूक मतदाताओं ने रिकॉर्ड वोटिंग की ओर कदम बढ़ाया है। वीरवार को हुई वोटिंग में 435 बूथों को छोड़कर बाकी पर करीब 74 फीसदी मतदान रिकॉर्ड हो गया था। इन बूथों पर शाम 7 बजे तक वोटिंग के लिए कतारें लगी थीं। देर शाम तक सारे आंकड़े आने के बाद संभावना है कि मतदान प्रतिशतता 75 फीसदी को पारकर जाएगी। इससे पहले 2003 में सबसे ज्यादा 74.51 फीसदी वोट पड़े थे। राज्य में मुख्य निर्वाचन अधिकारी पुष्पेंद्र राजपूत ने बताया कि शेष 435 बूथों से डिटेल आने के बाद ही अंतिम प्रतिशतता जारी होगी। लोकतंत्र के इस महाकुंभ में कई चुनाव क्षेत्रों ने इस बार 80 फीसदी वोटिंग के आंकड़े को पार किया है।

इनमें कुल्लू, बंजार, नालागढ़ और जुब्बल कोटखाई जैसे चुनाव क्षेत्र शामिल हैं। कांगड़ा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील को स्वीकारते हुए महिलाओं ने वोटिंग में पुरुषों को पछाड़ दिया है। वीरवार शाम पांच बजे के रिकॉर्ड के अनुसार प्रदेश में 36,91,392 मतदाताओं ने मतदान किया था, जबकि प्रदेश में कुल मतदाताओं की संख्या 50,25,941 है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने शिमला में आयोजित पत्रकार वार्ता में बताया कि प्रदेशभर में मतदान प्रक्रिया शांति पूवर्क संपन्न हुई।

कुल 68 विधानसभा क्षेत्रों में 337 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इसमें 318 पुरुष और 19 महिला शामिल हैं। सभी 7,525 मतदान केंद्रों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। 399 अतिसंवेदनशील और 983 संवेदनयाील मतदान केंद्रों में सीआरपीएफ तैनात की गई थी। राजपूत ने कहा कि 37,607 पोलिंग कर्मचारियों के अतिरिक्त 6500 सीआरपीएफ और 24,267 सुरक्षा कर्मी चुनाव ड्यूटी में तैनात किए गए थे। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि चुनावी गतिविधियों पर सीधी निगरानी रखने के लिए 2300 मतदान केंद्रों में वेब-कास्टिंग का प्रयोग किया गया।

79 वीवीपैट ईवीएम हुई खराब

प्रदेशभर में मतदान प्रक्रिया के दौरान 79 वीवीपैट खराब हुई। इसके अतिरिक्त 33 बेल्ट यूनिट सहित 29 केंट्रोल यूनिट भी खराब हुए, जिस कारण ऐसे मतदान केंद्रों में मतदाताओं को परेशानियों का भी सामना करना पड़ा। हालांकि मुख्य निर्वाचन अधिकारी पुष्पेंद्र राजपूत का कहना है कि इन मशीनों को बिना अधिकवक्त लगाए चुनाव प्रक्रिया के दौरान हीबदल दिया गया था, ताकि मतदाताओं को दिक्कतों का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि प्रदेश भर में 11,283 बैलेट यूनिट, 9,809 कंट्रोल यूनिट और 11,050 वीवीपैट प्रयोग में लाई गई।
वीरभद्र सिंह ने रामपुर तोधूमल ने भोरंज में डाला वोट

विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद की लड़ाई लड़ रहे प्रदेश के दो दिग्गजों ने अपने अपने गृह क्षेत्रों में वोट डाले। कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने रामपुर में अपने परिवार के साथ जाकर वोट डाला। जबकि भाजपा की ओर से प्रेम कुमार धूमल ने समीरपुर में परिवार सहित वोट डाला, जो भोरंज चुनाव क्षेत्र का हिस्सा है। हालांकि वीरभद्र सिंह सोलन के अर्की तो धूमल हमीरपुर जिला के सुजानपुर से चुनाव लड़ रहे हैं।

संधोल में चुनाव का बहिष्कार

टीहरा। जहां एक तरफ चुनाव आयोग शतप्रतिशत मतदान के लिए भरपूर कोशिश कर रहा है, वहीं जिला मंडी के धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में तहसील संधोल के अंतर्गत बांह पोलिंग बूथ पर आयोग की कोशिशों को झटका लगा। इस बूथ के अंतर्गत आने वाले लोगों ने वोट नहीं डाला। इन लोगों का मानना है कि हमेशा ही यह क्षेत्र उपेक्षा का शिकार रहा है।

PM मोदी ने किया था मतदान का आह्वान

वीरवार को वोटिंग के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्विटर पर प्रदेश के लोगों से मतदान करने का आग्रह किया था। उन्होंने लिखा था कि हिमाचल में आज फैसले का दिन है। मतदाता वोट देने जरूर जाएं और अपने अधिकार का इस्तेमाल करें।

किन्नौर में मतदान के बाद बर्फबारी शुरू

रिकांगपिओ। किन्नौर में वीरवार को मतदान समाप्त होते ही  शाम करीब 6 बजे से समूचे जिला के निचले क्षेत्रों में तेज बारिश व ऊंची पहाडिय़ों पर बर्फबारी का दौर शुरू हुआ, जिस कारण ठंड में काफी इजाफा हो गया है।

कब कितना मतदान

वर्ष                        मतदान 

2017                     74

2012                   72.69

2007                   71.61

2003                   74.51

1998                    71.23

1993                    71.50

1990                    67.76

1985                     70.36

1982                     71.06

1977                      58.57

1972                      49.95

1967                      51.22

1951                       25.16

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams