मुख्यमंत्री ने जर्मनी के राईनलैंड प्रांत के मंत्री से की चर्चा, धर्मशाला इन्वेस्टर मीट का दिया न्योता

हिमावल दस्तक ब्यूरो। शिमला : हिमाचल प्रदेश में निवेश आकर्षित करने के प्रयास के अंतर्गत मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने फ्रैंकफर्ट (जर्मनी) के राईनलैंड प्रांत के कृषि, पर्यटन, परिवहन और विटीकल्चर (वाईन मैकिंग) मंत्री डॉ. वॉल्कर विसिंग से भेंट की।

मुख्यमंत्री ने मंत्री डॉ. वॉल्कर विसिंग को हिमाचल में कृषि, पर्यटन, परिवहन और अधोसंरचना क्षेत्रों में निवेश की व्यापक संभावनाओं के बारे में अवगत करवाया। जयराम ठाकुर ने मंत्री को राईनलैंड के सरकारी एवं व्यापार प्रतिनिधिमंडल के साथ हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में होने वाले वैश्विक निवेशक सम्मेलन में शामिल होने का आमंत्रण दिया। डॉ. विसिंग ने हिमाचल प्रदेश के साथ मिलकर कार्य करने में गहरी रुचि व्यक्त की।

उन्होंने मुख्यमंत्री को जर्मनी द्वारा प्रयोग की जा रही तकनीकों को और गहराई से समझने के लिए दोबारा राईनलैंड आने का निमंत्रण दिया जिसके माध्यम से जर्मनी सतत् एवं विश्व स्तरीय अधोसंरचना का निर्माण कर रहा है। डॉ. विसिंग ने मुख्यमंत्री को अश्वासन दिया की हिमाचल में राईनलैंड के उद्योगपति का दौरा करवा कर निवेश के बारे में चर्चा की जाएगी।

राईनलैंड-हिमाचल की संस्कृति का आदान-प्रदान

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राईनलैंड प्रांत के कृषि, पर्यटन, परिवहन और विटीकल्चर (वाइन मैकिंग) मंत्री डॉ. वॉल्कर विसिंग से हिमाचल प्रदेश की संस्कृति के बारे में चर्चा की। मुख्यमंत्री ने राईनलैंड प्रांत की संस्कृति के बारे में अपनी रुची दिखाई। इस मौके पर वहा पर राईनलैंड प्रांत की सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया।

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं प्रधान निजी सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान निजी सचिव विनय सिंह, फ्रेंकफर्ट में भारत के महावाणिज्यदूत प्रतिभा पारकर और कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री के प्रतिनिधि भी इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ थे।

Published by surinder thakur

IT Head Himachal Dastak Media P. Ltd. Bypass Road kangra Kachiari H.P.

Leave a comment

कृपया अपना विचार प्रकट करें