farewell bureaucracy

सेंट्रल टीम की मीटिंग ले रहे थे चीफ सेके्रटरी फारका

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
सत्ता के परिवर्तन के आगे ब्यूरोक्रेसी के मुखिया का पद भी बहुत छोटा है। इसका प्रत्यक्ष उदाहरण शनिवार रात की घटना है। शनिवार शाम तक प्रदेश के मुख्य सचिव वीसी फारका थे। बतौर मुख्य सचिव उन्होंने 8 बजे शिमला के होटल पीटरहाफ में आपदा प्रबंधन पर दिल्ली से आई इंटर मिनिस्ट्रीयल टीम की बैठक शुरू की। कुल 6 सदस्यीय ये टीम तीन दिनों से हिमाचल के कई जिलों के दौरे पर थी।

बैठक के बाद टीम के लिए डिनर का इंतजाम भी था। राज्य सरकार के कई विभागों के अधिकारी भी बैठक में थे, लेकिन 9 बजे जब बैठक खत्म हुई तो फारका मुख्य सचिव नहीं थे। राज्य सरकार ने एक आदेश से उनकी जगह विनीत चौधरी को मुख्य सचिव बना दिया था। यानी इस बैठक के दौरान ही एक आदेश से मुख्य सचिव की कुर्सी भी सरक गई।

ये बात पीटरहाफ में पता चलने पर डिनर का माहौल भी खराब हो गया। कुछ अफसर तो बिना डिनर ही लौट आए। हालांकि ये आदेश अप्रत्याशित नहीं थे। बावजूद इसके ये घटना ये समझने के लिए काफी है कि मुख्य सचिव की शीर्ष कुर्सी भी सत्ता के खेल के आगे बौनी है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams