suicide

सुसाइड नोट में लिखा-मुझसे कोई प्यार नहीं करता, पहेली सुलझाने को छोड़ी

हिमाचल दस्तक,ठियोग।।जानलेवा ब्लू व्हेल गेम के हल्ले के बीच शिमला के ठियोग क्षेत्र में एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है। पांचवीं में पढ़ रहे एक छात्र ने घर के पास बने ढारे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली और सुसाइड नोट में एक पहेली बनाकर सुलझाने के लिए छोड़ गया।

  • पहेली में उलझे बच्चे ने लगा ली फांसी
  • माना जा रहा है कि छात्र ने ब्लू व्हेल गेम के कारण यह कदम उठाया

बलसन क्षेत्र के बागड़ी का रहने वाला ये बच्चा एक निजी स्कूल में पांचवीं कक्षा का छात्र था। माना जा रहा है कि छात्र ने ब्लू व्हेल गेम के कारण यह कदम उठाया है। हालांकि पुलिस इससे इंकार कर रही है कि छात्र ने इस गेम का कारण आत्महत्या की है। कार्यवाहक डीएसपी संतोष शर्मा के अनुसार पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

बच्चे के पास मोबाइल नहीं था

आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लग पाया है, लेकिन ये ब्लू व्हेल गेम के कारण नहीं, क्योंकि बच्चे के पास मोबाइल नहीं था और पहले भी ऐसी कोशिश कर चुका था। इधर ये सूचना भी है कि घर में काम कर रहे मिस्त्री के फोन पर छात्र कभी-कभी गेम खेलता था। मृतक छात्र ने मरने से पहले अपनी नसें काट ली और सुसाइड नोट भी छोड़ा। इसमें कुछ पहेलियां न सुलझा सकने की बात कही है।

ये पहली सुलझाओ लिखते हुए छात्र ने आगे लिखा कि कोई मुझसे प्यार नहीं करता और वह खुद को मौत की सजा दे रहा है। छात्र के पिता रिटायर्ड फौजी हैं। छात्र के परिजन इस बात पर विश्वास नहीं कर पा रहे हैं।

अभी तय नहीं, ब्लू व्हेल है या नहीं?

देश में ब्लू व्हेल गेम के कारण कई छात्र अपने आप को नुकसान पहुंचा रहे हैं। हिमाचल के सोलन में भी इस तरह का मामला प्रकाश में आया था। लेकिन वहां घर वालों को इसका पहले ही पता चल गया था। सुप्रीम कोर्ट से भी इस बारे सरकार को गंभीर कदम उठाने के निर्देश दिए गए है। इंटरनेट से भी इस गेम के लिंक्स डिलीट करने के निर्देश दिए गए हैं। हालांकि इस केस में ये अभी क्लीयर नहीं है कि ये ब्लू व्हेल गेम है या नहीं?

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams