Government will reduce ten percent increase in water bills

आईपीएच मंत्री महेंद्र ठाकुर ने दिए पुनर्विचार के संकेत, पानी के बिल में सालाना दस फीसदी बढ़ोतरी जायज नहीं ,  लोगों को जल्द मिल सकती है बड़ी राहत

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। मंडी : प्रदेश सरकार पानी के बिल में हर साल होने वाली दस फीसदी बढ़ोतरी को कम करने की तैयारी में है। मंडी में आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने एक कार्यक्रम में पानी के बिलों की दरों में कटौती करने के संकेत दिए हैं।

लोगों के लिए यह सबसे बड़ी सौगात होगी। गौर रहे कि पूर्व सरकार ने पानी के बिलों पर दस फीसदी सालाना बढ़ोतरी की थी, जो आज भी है। लोग बार-बार सरकार से कटौती करने की मांग कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि सरकार या तो पांच साल के बाद बढ़ोतरी करेगी या फिर कुछ फीसदी कमी को ही लागू करेगी। फिलहाल अब यह फैसला सीएम जयराम के हाथों में है। आईपीएच मंत्री ने पुनर्विचार करने को कहा है। दस साल की सालाना बढ़ोतरी से लोगों को भारी भरकम बिल अदा करने पड़ रहे हैं।

यानी पिछले 8 साल यह बढ़ोतरी 80 फीसदी तक पहुंच गई है। लोगों ने सीएम के समक्ष भी इस मुद्दे को कई बार उठाया था और मुख्यमंत्री ने इस बारे में विचार करने को कहा था। आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ने स्पष्ट किया कि पानी के बिल में सालाना दस फीसदी बढ़ोतरी जायज नहीं लगती है। सीएम के साथ चर्चा के बाद इस पर फैसला लिया जाएगा।

सीवरेज के बिल की दरों  पर भी होगी समीक्षा

आईपीएच मंत्री ने कहा कि सीवरेज के बिलों की दरों में समीक्षा की जाएगी। क्योंकि अभी तक पानी के बिल के हिसाब से ही पचास फीसदी बिल सीवरेज का लिया जाता है।लोग इसमें भी कटौती की मांग कर रहे हैं।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams