Head Constable's Big Action in Bribery Case

पंडोगा चौकी का पूरा स्टॉफ किया लाईन हाजिर, चौकी प्रभारी सहित 8 पुलिस कर्मियों पर गिरी गाज

चंद्रमोहन चौहान, ऊना।  पंडोगा चौकी के हैड कांस्टेबल द्वारा एक लाख रुपये की रिश्वत लिए जाने का मामला उजागार होने के बाद एसपी ऊना ने चौकी कर्मियों पर बड़ी कार्रवाई की है। एसपी ऊना ने 12 घंटे के भीतर ही आदेश जारी कर चौकी इंचार्ज सहित पूरे स्टॉफ लाईन हाजिर कर दिया है। एसपी द्वारा की गई कार्रवाई से पुलिस महकमे में हडकंप मच गया है।

बता दें कि ऊना और शिमला की विजिलेंस टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए रविवार देर सांय पंडोगा चौकी में तैनात हैड कांस्टेबल को एक लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोचा था। दरअसल पंडोगा चौकी में धोखाधड़ी के एक मामले में आरोपी को बचाने की एवज में हैड कांस्टेबल प्रेम सिंह ने अढ़ाई लाख रुपये की मांग की थी। जिसके बाद ये डील एक लाख रुपये में तय हुई। तय की गई राशि हैड कांस्टेबल को पहुंचाने से शिकायतकर्ता ने मामले की सूचना विजिलेंस शिमला और ऊना को की थी। जिसके बाद विजिलेंस मुख्यालय ने शिमला और ऊना के अधिकारियों की एक सुंयक्त टीम बनाकर हैडकांस्टेबल को पकडऩे के लिए जाल बिछाया और इसमें विजिलेंस की टीम को कामयाबी भी हाथ लगी।
इस मामले में हुई पुलिस की किरकिरी को देखते हुए एसपी ऊना ने सोमवार सुबह ही कार्रवाई करते हुए चौकी के पूरे स्टॉफ पुलिस लाईन झलेड़ा में तबादला कर दिया। पंडोगी चौकी से हुए तबादले में 8 पुलिस कर्मियों में एएसआई विशेष कुमार, एचसी सुशील कुमार, एचएचसी तीर्थ राम, कांस्टेबल अजय सिंह, गुलशन कुमार, राजेश कुमार, विपिन कुमार व हरविंद्र सिंह शामिल है। इन सभी को एसपी ने पुलिस लाईन झलेड़ा में भेज दिया है। एसपी दिवाकर शर्मा ने बताया कि पुलिस मामले को गंभीर है। उन्होंने कहा कि हैड कांस्टेबल द्वारा रिश्वत लेने के बाद पुलिस चौकी पंडोगा के पूरे स्टॉफ को पुलिस लाईन झलेड़ा में लाईन हाजिर किया गया है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams