News Flash
train engine fire

कालका-शिमला रेलवे ट्रैक पर बर्निंग ट्रैन

रेलवे बोर्ड ने दिए जांच के आदेश

भूपेन्द्र ठाकुर। सोलन
कालका-शिमला रेलवे ट्रैक पर बर्निंग ट्रैन देख कर लोगों के धड़कने थम गई। धर्मपुर व कुम्हारहट्टी के बीच में मंगलवार को कालका से शिमला जा रही हिमालयन क्वीन 52455 के इंजन में आचानक से आग लग गई। इंजन से धूआ उठता देख आसपास के ग्रामीण मौके पर एकत्रित हो गए और आग को बड़ी मुश्किल से बुझाया गया। रेल में बैठ सभी करीब 200 यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल दिया गया। ट्रैन चालक की सूझबूझ की वजह से बड़ा हादसा होने से टला है। वहीं रेलवे बोर्ड ने घटना की जांच के आदेश जारी किए हैं।

जानकारी के अनुसार मंगलवार को कालका रेलवे स्टेशन से शिमला के लिए हिमालयन क्चीन करीब 10:15 बजे रवाना हुई। धर्मपुर रेलवे स्टेशन पहुंचने तक ट्रैन के इंजन में चालक को किसी तकनिकी समस्या का अहसास नहीं हुआ। करीब 12:10 बजे पर जब ट्रैन धर्मपुर रेलवे स्टेशन से आगे निकली तो कुम्हारहट्टी के समीप ट्रैन के इंजन में अचानक से आग लग गई। इंजन से इतना अधिक धूंआ निकल रहा था कि आसपास के ग्रामीण भी हैरान हो गए। जब चालक को पता चला तो कुछ ही मिटर की दूरी पर ट्रैन को रोक दिया गया।

इंजन में लगी आग तेजी से फैलने लगी। इसी दौरान आसपास के ग्रामीण भी घटनास्थल पर एकत्रित हो गए और आग को बुझाने का प्रयास करने लगे। करीब आधा घंटे की मशक्त के बाद इंजन में लगी आग को बड़ी मुश्किल से बुझाया गया। कई घंटे के बाद दुसरा इंजन मंगवाया गया तथा खराब इंजन को काटकर निकाला गया। इसके बाद ट्रैन यहां से रवाना हुई।

बताया जा रहा है कि ट्रैन में करीब 200 यात्री यात्रा कर रहे थे तथा अधिकत्तर देश के विभिन्न राज्यों से शिमला जाने वाले पर्यटक शामिल थे।

इंजन में आग लगने की घटना के बाद यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई है और सभी यात्री ट्रैन रूकने के बाद बाहर निकल गए। यहां पर करीब तीन घंटे तक ट्रैन रूकी रही और यात्रियों को टैक्सी व अन्य माध्यम से यहां से रवाना किया गया। इस घटना के बाद रेलवे यात्रा कर रहे यात्रियों की सुरक्षा पर भी सवालिया निशान लग गया है।

पता चला है कि हिमालयन क्वीन रेल में ईस्तेमाल किया गया इंजन काफी अधिक पुराना नहीं था। करीब पांच से सात वर्ष पहले ही इस इंजन को खरीदा गया था। ऐसे में अब सवाल यह पैदा हो रहा है कि आखिर इंजन में आग किसी वजह से लगी और ट्रैन रवाना होने से पहले इंजन की जांच अच्छे से क्यों नहीं की गई। उत्तर रेलवे बोर्ड अंबाला के डिआरएम दिनेश कुमार का कहना है कि घटना की जांच के आदेश जारी किए हैं। पता लगाया जा रहा है कि इंजन में आग किसी वजह से लगी है।

यह भी पढ़ें – ट्रक यूनियन को ना बनाएं राजनीति का अड्डा – बिट्टू

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams