News Flash
Hitesh Chese wants to make world record

केवल खेल नहीं, संपूर्ण दिमागी व्यायाम है शतरंज , स्कूली विषय में शामिल करने का बनाया है प्रस्ताव

रविंद्र पंवर। शिमला  : वह शतरंज के पेशेवर खिलाड़ी नहीं, बल्कि एक एचएएस अधिकारी हैं, लेकिन उनमें दिमागी खेल चेस के प्रति गजब का जुनून है। यही कारण है कि वह चेस में विश्व रिकॉर्ड बनाना चाहते हैं। इस दिशा में उन्होंने कदम बढ़ा भी दिए हैं और दुनिया में सबसे अधिक समय तक लगातार चेस खेलने का कारनामा भी कर दिखाया है।

अब इसके बाद उनका लक्ष्य एक और विश्व रिकॉर्ड को अपने नाम करना है, जिसमें वह अकेले 650 खिलाडिय़ों के साथ शतरंज की बाजी लगाना चाहते हैं। हम बात कर रहे हैं एचएएस अधिकारी हितेश आजाद की, जो आजकल प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय में संयुक्त निदेशक हैं। जिला शिमला में अढाल गांव निवासी हितेश कहते हैं कि चेस केवल एक खेल नहीं, यह संपूर्ण दिमागी कसरत है। चेस आदमी व्यक्ति के सोचने-समझने-परखने व निर्णय लेने की क्षमता में वृद्धि करता है।

इससे धैर्य, दूरदृष्टि और दूसरे व्यक्ति के दिमाग को पढऩे की क्षमता भी विकसित होती है। चेस के सरताज बॉबी फीशर को अपना आदर्श मामने वाले हितेश को स्कूल-कॉलेज समय से ही शतरंज का शौक रहा। हालांकि उनका रुझान प्रशासनिक सेवाओं के प्रति अधिक था, जिसके चलते वह शतरंज में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर तक नहीं खेल पाए। बावजूद इसके उन्होंने शतरंज में लगातार छह इंटर कॉलेज खेले हैं और तीन गोल्ड व तीन सिल्वर मेडल भी अपने नाम किए, जबकि एक इंटरवस्र्टी भी खेली है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams