News Flash
march past slippers

राज्य स्तरीय स्पर्धा के शुभारंभ के दौरान खुली व्यवस्था की पोल

  • कार्यक्रम देख रहे लोगों ने की आलोचना
  • लोग बोले, आयोजकों व स्पोट्र्स स्टाफ को रखना चाहिए था ध्यान

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। चंबा
चंबा के ऐतिहासिक चौगान में राज्य स्तरीय अंडर-12 प्रतियोगिता के दौरान स्थिति हास्यापद हो गई, जब चंबा टीम के छात्र मार्च पास्ट करने के लिए सैंडल (चप्पल) में उतर आए। प्रतियोगिता के पहले दिन परेड के दौरान ही चंबा जिला के नन्हें खिलाडय़िों ने रंग- बिरंगे जूते व चप्पल पहनकर ही परेड शुरू कर दी। इस मौके पर अन्य जिलों के खिलाडिय़ों व स्टाफ ने जिला के आयोजकों की काफी अलोचना की। चंबा चौगान में सैकड़ों की संख्या में लोग परेड को देखने के लिए पहुंचे थे।

लोगों ने भी प्रतियोगिता की मेजबानी कर रहे आयोजकों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए। प्रदेश के दूरदराज के जिलों के खिलाडिय़ों ने जहां मार्च पास्ट की पोशाक में बेहतरीन प्रदर्शन किया, तो वहीं चंबा के खिलाड़ी हास्य का पात्र बने। चंबा के कुछेक छात्रों ने जहां रंग बिरंगे जूते पहने थे, तो वहीं दो खिलाड़ी सैंडल में ही मार्च पास्ट करने चल दिए।

हैरानी की बात तो यह है कि चंबा में पिछले तीन-चार दिनों से अभ्यास हो रहा था, लेकिन ऐन मौके पर ही चप्पल से मार्च पास्ट करना हास्यापद स्थिति का कारण बन गया। मसलन सोमवार को प्रतियोगिता की शुरूआत की मेजबान जिले के लिए काफी खराब रही। परेड के दौरान शिमला, सोलन व कुल्लू के खिलाडि़य़ों ने बेहतरीन प्रदर्शन करके वाहवाही लूटी व तालियां बटोरी, लेकिन चंबा के खिलाडिय़ों के रंग बिरंगे जूते व चप्पल देख हर कोई अलोचना करता नजर आया।

यह भी पढ़ें – स्मार्ट स्टडी से होंगे कामयाब

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams