Ranjeet Ranjan

Ranjeet Ranjan बोलीं, कैसे 16 हजार गुणा बढ़ गई बेटे की कंपनी की संपत्ति

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
BJP अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी की कथित हेराफेरी पर कांग्रेस ने सोमवार को देशभर के कई राज्यों में प्रेस वार्ताएं कर आरोप दागे। शिमला में इसी क्रम में कांग्रेस की राज्य सह प्रभारी Ranjeet Ranjan ने प्रेस वार्ता की, लेकिन पहले समय देने के बावजूद इससे CM वीरभद्र सिंह दूर रहे। पूछने पर रंजीत रंजन ने बताया कि वह AICC की राष्ट्रीय प्रवक्ता के नाते प्रेस वार्ता कर रही हैं, जबकि एक Protocol के तहत नहीं आए। रंजन के साथ कैबिनेट मंत्री विद्या स्टोक्स और कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सुक्खू मौजूद थे।

हालांकि प्रेस वार्ता के बाद लंच के लिए CM होटल होलीडे होम पहुंच गए। रंजीत रंजन ने राष्ट्रीय प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक 2014 में सरकार बनने के बाद अमित शाह के बेटे की कंपनी टेंपल इंटरप्राइजिज लिमिटेड की टर्नओवर में 16 हजार गुणा बढ़ोतरी हुई और फिर दो साल बाद इसे दोबारा घाटे में बताकर बंद कर दिया गया। इस कंपनी को लोन देने वाले लोग भी देश की बड़ी कंपनियों से जुड़े हैं। ऐसे में इस हकीकत का पता चलना चाहिए।

रंजन ने कहा कि न खाऊंगा न खाने दूंगा की बात करने वाले प्रधानमंत्री मोदी अब सुप्रीम कोर्ट के सीटिंग जज से ये जांच करवाएं और दूध का दूध और पानी का पानी लोगों के सामने लाएं। ये भी साफ होना चाहिए कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल जय शाह का बचाव क्यों कर रहे हैं? क्या PM मोदी अब भी चुप रहेेंगे।

6 करोड़ के लिए वीरभद्र पर केस, तो शाह पर क्यों नहीं?

रंजीत रंजन ने सवाल पूछा कि 6 करोड़ रुपये की धनराशि पर अब यदि CM वीरभद्र सिंह पर ED और CBI का केस बन सकता है, तो जय शाह पर क्यों नहीं? इनकी कंपनी ने तो इससे कई गुणा ज्यादा पैसा इधर उधर किया है। RBI बताए कि क्या कोई बैंक 5 करोड़ की सिक्योरिटी रखकर 25 करोड़ लोन देता है? कांगे्रस आने वाले चुनाव में इस मुद्दे को जनता के बीच ले जाएगी।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams