News Flash
Dental College

अप्रैल में थी आरकेएस बैठक

मिनट्स आज तक नहीं आए बाहर, रुकी पड़ी है खरीद

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
राज्य का सबसे बड़ा सरकारी डेंटल कॉलेज मंत्री जी की अध्यक्षता में हुए फैसले भी दबा गया। शिमला डेंटल कॉलेज में रोगी कल्याण समिति की बैठक 22 अप्रैल को हुई थी। इसमें स्वास्थ्य मंत्री ठाकुर कौल सिंह खुद आए थे, लेकिन इसमें क्या फैसले हुए आज तक पता नहीं चल पाए हैं, क्योंकि बैठक के मिनट्स ही जारी नहीं किए गए। इधर कालेज में कार्यरत सूत्र बताते हैं कि एक महंगी मशीन की खरीद पर मनचाहा फैसला न होने के कारण सब रुका पड़ा है।

यानी हाल ही में डेंटल चेयर खरीद में विजिलेंस ब्यूरो के निशाने पर आए डेंटल कॉलेज में खरीद का खेल काफी गहरा है। लेकिन इस खेल की कीमत अस्पताल में दांतों का इलाज करवाने आ रहे मरीजों का नुकसान हो रहा है। बैठक की प्रोसीडिंग्स न आने के कारण डेंटल कॉलेज की सामान्य खरीद अटकी पड़ी है और दांतों के इलाज का छोटा मोटा सामान भी कॉलेज में नहीं है। रुई से लेकर ग्लब्स, सिरिंज तक बाहर से मंगवानी पड़ रही है।

इस सारे काम के लिए आरके एस की मीटिंग में 65 लाख का बजट पास तो हुआ, लेकिन कॉलेज, इस बजट से अभी तक कोई खरीदारी नहीं कर पा रहा है। डेंटल कॉलेज में पास हुए इस बजट को लेकर डेंटल कॉलेज में छात्र छात्राओं की सुविधा के लिए दो स्मार्ट क्लासरूम, मल्टी मीडिया प्रोजेक्टर, इंटरेक्टिव बोर्ड, विजुअल प्रेजेंटर भी लगाए जाने थे। इधर कॉलेज की हालत आजकल ऐसी है कि यहां पर दंत इलाज के लिए फीलिंग और एक्सरे फिल्म मिलना भी मुश्किल है।

इस देरी पर मैं खुद हैरान हूं : कौल सिंह

‘हिमाचल दस्तक’ द्वारा संपर्क करने पर स्वास्थ्य मंत्री ठाकुर कौल सिंह ने बताया कि डेंटल कॅालेज प्रिंसिपल  को RKS की बैठक के मिनट्स जल्द जारी करने को कहा है। डेंटल कॉलेज में मरीजों को पेश आ रही परेशानियों के बारे में शिकायतें आ रही है, इसलिए जल्दी जरूरी सामान खरीदने के लिए कहा है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams