News Flash
hrtc drivers

सोलन के एचआरटीसी डिपो में खाली पदों का भुगत रहे खामियाजा

  • 170 की जगह 138 से ही चलाना पड़ रहा काम
  • रोजाना 155 लांग व लोकल रूटों पर चलती हैं बसें

तोमर ठाकुर। सोलन
सोलन के एचआरटीसी डिपो में बस चालकों को छुट्टियां नहीं मिल रही हैं। डिपो में बस चालकों के 32 पद खाली हैं। इसके चलते समस्या पेश आ रही है। चालक भी पर्याप्त अवकाश न मिलने से मानसिक रूप से प्रताडि़त हो रहे हैं। सोलन डिपो से रोजाना जिला व जिला के बाहर 155 लोकल व लांग रूट पर बसें चलाई जाती हैं। चालकों की कमी के चलते अब रोजाना बसों को बहाल करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कई बार तो चालकों को जरूरत पडऩे पर भी अवकाश नहीं दिए जा रहे है। इसके चलते अब चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

जानकारी के अनुसार सोलन एचआरटीसी डिपो में 170 बस चालकों की आवश्यकता है, लेकिन वर्तमान में केवल 138 बस चालक ही लोगों को सेवा दे रहे हैं। इसके चलते बीते कई वर्षों से बस चालकों को साप्ताहिक अवकाश भी नहीं मिल रहे हैं। आलम यह है कि सोलन में एचआरटीसी द्वारा इलेक्ट्रिक टैक्सियां भी चलाई जा रही हैं। इन टैक्सियों को भी एचआरटीसी के ही ड्राइवर चला रहे हैं। ऐसे में निगम को बसें चलाने में और अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बस रूट हो रहे प्रभावित

बस चालकों की कमी के चलते कई बार तो बसों के रूट भी प्रभावित होते रहते है। इसका खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ता है। बताया जा रहा है कि कई बार तो बस चालकों को लांग रूट से आते ही तुरंत लोकल रूट के लिए भेज दिया जाता है। इससे बस चालक खासे परेशान है।

35 कंडक्टरों के भी पद खाली

सोलन डिपो में कंडक्टरों के भी 35 पद खाली है। इस समय सोलन डिपो में 132 कंडक्टर अपनी सेवाएं दे रही है, जबकि आवश्यकता 167 की है। इसका सीधा खामियाजा कंडक्टरों को समय पर अवकाश न मिलने से उठाना पड़ रहा है। हालांकि कुछ समय पहले सोलन डिपो को निगम द्वारा 42 नए कंडक्टर दिए गए हैं, लेकिन कंडक्टर की कमी इतनी अधिक थी कि नए कंडक्टर को देने के बाद भी सोलन डिपो को कंडक्टर की कमी झेलनी पड़ रही है। निगम को कंडक्टरों को अवकाश कटाने में भी दिन-प्रतिदिन मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है, क्योंकि डिपो में समय-समय पर कर्मचारी सेवानृवित्त हो रहे है।

सोलन डिपो में चालकों की कमी चल रही है। चालकों को जरूरत पडऩे पर ही अवकाश दिए जा रहे हैं। जल्द ही इस समस्या को प्रशासन के सामने रखा जाएगा, ताकि आने वाले दिनों में सोलन डिपो को पर्याप्त बस चालक दिए जाएं। – सुरेश धीमान, क्षेत्रीय प्रबंधक

यह भी पढ़ें – घायल टीचर ने पीजीआई में तोड़ा दम

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams