News Flash
jai ram lights

योजना लागू करने को बिजली बोर्ड ने जारी की गाइडलाइन

17,550 परिवारों को मिलेंगे फ्री कनेक्शन

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
राज्य में अब हर गरीब के घर तक जयराम सरकार की ‘रोशनी’ पहुंचेगी। मुख्यमंत्री की बजट घोषणा को लागू करते हुए राज्य बिजली बोर्ड ने रोशनी योजना को लेकर गाइडलाइंस जारी कर दी हैं। इस साल कुल 17,550 गरीब परिवारों को 13.16 करोड़ खर्च कर फ्री कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया है।

बिजली बोर्ड के एमडी जेपी काल्टा ने बताया कि राज्य बिजली बोर्ड द्वारा जनता से मुख्यमंत्री रोशनी योजना का लाभ उठाने का आग्रह किया है। बोर्ड ने राज्य सरकार की स्वीकृति मिलने के बाद 24 जून को इस महत्वकांक्षी योजना की अधिसूचना जारी कर अपने फील्ड कार्यालयों को निर्देश जारी कर दिए हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस योजना को शुरू करने की घोषणा 2019-20 के बजट भाषण में की थी।

राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना में गरीब परिवारों को विद्युत कनेक्शन प्राप्त करने में आसानी होगी और इससे ऐसे परिवारों को वित्तीय राहत मिलेगी। इस योजना में गरीब परिवार के लिए खंभे से घर तक कनेक्शन के लिए तार निशुल्क मिलेगी। खंभा भी विभाग लगाएगा। बिजली बोर्ड के पास जमा होने वाली सिक्योरिटी 50 फीसदी रहेगी।

इस योजना में चालू वित्त वर्ष के दौरान अनुमानित 17,550 गरीब परिवारों को कनेक्शन उपलब्ध करवाने के लिए 13 करोड़ 16 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। इस योजना में लाभान्वित होने वाले परिवारों के लिए प्रक्रिया तय है। इस योजना की मॉनीटरिंग बोर्ड मुख्यालय स्तर पर लगातार की जाएगी व राज्य सरकार के स्तर पर इसकी समीक्षा की जाएगी।

इन परिवारों को मिलेगा योजना का लाभ

परिवार की सभी स्रोतों से प्राप्त वार्षिक आय 35 हजार से अधिक नहीं होनी चाहिए या घर का विद्युत लोड 2 किलोवाट से कम होना चाहिए या परिवार का चयन बीपीएल परिवारों की सूची में होना चाहिए या परिवार अंत्योदय अन्न योजना के अंतर्गत आना चाहिए या परिवार का चयन प्राथमिकता परिवार की सूची में होना चाहिए। इन 5 शर्तों में यदि कोई गरीब परिवार एक भी शर्त को पूरा करता है तो वह इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र है।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams