News Flash
job fraud case

पार्ट टाइम जॉब के नाम पर करोड़ों की ठगी का मामला

  • अदालत में पेश, 19 तक रिमांड पर
  • फरार चल रहे आरोपियों तक पहुंच बनाएगी पुलिस

हिमाचल दस्तक। ऊना
पार्ट टाईम जॉब के नाम पर हजारों लोगों के साथ करोड़ों की ठगी मामले में पकड़े गए आरोपी बाबू राम से जल्द ही बड़े खुलासे होने की उम्मीद है। फिलवक्त बाबू राम इतना ही बता पाया कि मामले में तीन अन्य साथी थे, जिनमें से एक पहले ही फरार हो गया था, जबकि दो साथी संग में ट्रेन की मदद से अंबाला पहुंचे था। मुझे अंबाला छोड़कर दो साथी खुद टैक्सी लेकर फरार हो गए थे। अंबाला से अपने घर रुड़की आ गया। कुछ दिन घर रहने के बाद ऊना में अपना सामान लेने वापस आया हुआ था।

सामान लेकर रुड़की जाने के लिए ऊना रेलवे स्टेशन पर बैठा हुआ कि पुलिस ने काबू कर लिया। ऊना पुलिस ने वीरवार को आरोपी बाबू राम को अदालत में पेश किया, जहां पर अदालत ने 19 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर भेजने के आदेश जारी किए हैं। पुलिस की मानें तो पकड़े गए आरोपी बाबू राम से फरार चल रहे आरोपियों तक पहुंचने में पुलिस को मदद मिलेगी। बता दें कि पार्ट टाईम जॉब के नाम पर ठगी करने वाले तीनों आरोपी चताड़ा स्थित दिल्ली इनक्लेव कॉलोनी में रहते थे।

इनमें से एक आरोपी मोहित पहले ही फरार हो गया था, लेकिन 3 सितंबर की रात को लाल चंद, विजय व बाबूराम ट्रेन में सवार होकर अंबाला तक गए। जहां पर बाबूराम को छोडऩे के बाद लाल चंद और विजय टैक्सी लेकर फरार हो गए। अब पुलिस ने बाबूराम को पकड़ लिया है, जो कि कुक का भी काम करता है। पुलिस अब बाबू राम से पता लगाने में जुटी है कि पूरा प्लान क्या था और फरार चल रहे तीनों आरोपी कहां छिपे बैठे हैं। एएसपी विनोद का कहना है कि पुलिस मामले को लेकर जांच कर रही है। आरोपी बाबू राम को अदालत में पेश किया गया है, जहां अदालत ने 19 सितंबर तक पुलिस रिमांड पर भेजने के आदेश सुनाए है।

यह भी पढ़ें – दोस्त के अंतिम संस्कार के बाद खुद तोड़ा दम

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams