News Flash
director subhash kapoor

पिछले कल से ही सुभाष कपूर से मिलने वालों का तांता लगा हुआ है

हिमाचल दस्तक ।। जयसिंहपुर  

प्रसिद्ध फ़िल्म निर्देशक और लेखक व जॉली एल एल बी फ़िल्म के निर्देशक सुभाष कपूर इन दिनों पत्नी  डिंपल खरबंदा और बेटे गुलाल के  साथ जयसिंहपुर के बरड़ाम स्थित अपने पैतृक गांव में आए हुए हैं। सुभाष कपूर बुधवार को बरड़ाम पहुंचे थे। पिछले कल से ही सुभाष कपूर से मिलने वालों का तांता लगा हुआ है। आज सुभाष कपूर गन्दड़ बाजार  में घूमें तथा बाजार में स्थित अपने बचपन के दोस्त ध्रुव ठाकुर की मोबाइल फोन की शॉप पर गए और वहां  अपने प्रशंसकों से भी मिले। इस दौरान कांगड़ा बॉयज नाम से कॉमेडी यू ट्यूब चलाने वाले तीनों युवक व वॉलीवुड में किस्मत आजमा रहे कुछ स्थानीय युवक भी उनसे मिले।

इस दौरान सुभाष कपूर ने इन युवकों को अपनी प्रतिभा में निखार लाने के टिप्स देते हुए उन्हें भरपूर सहायता देने का आश्वासन दिया। लगभग 5 -6 बर्षों के बाद अपने पैतृक गांव आए सुभाष कपूर ने बताया कि पिछले कुछ बर्षों में हिमाचल में काफी तरक्की हुई है। उन्होंने कहा कि पहले की अपेक्षा हिमाचल में सड़कों की हालत सुधरी है लेकिन कुछ जगहों पर सड़कों की हालत बेहद खस्ता है जो कि हिमाचल जैसे पर्यटन राज्य के लिए चिंता की बात है।

उन्होंने कहा कि कंक्रीट के बढ़ते जाल से हिमाचल में भी मौसम अब पहले के मुकाबले ज्यादा  गर्म होने लगा है। इस अवसर पर सुभाष कपूर ने अपने दोस्तों और समर्थकों से वायदा किया कि वो अब हर बर्ष अपने गांव अवश्य आएंगे। इससे पहले बुधवार रात को स्थानीय विधायक रवि धीमान ने सुभाष कपूर से मुलाकात की। इस दौरान रवि धीमान ने कहा कि यह गर्व की बात है कि उनके विस क्षेत्र से सम्बंधित सुभाष कपूर ने वॉलीवुड में एक खास मुकाम हासिल किया है।

पत्रकार से निर्देशक तक का सफर

सुभाष कपूर ने 1990 में  पोलिटिकल रिपोर्टर के  तौर पर अपनी पारी शुरू की लेकिन उनकी मंजिल तो कुछ और ही थी. 2001 में सुभाष कपूर ने शार्ट फिल्में बनानी शुरू कीं। 2006 में सुभाष ने मुंबई का रुख किया और अपनी पहली फिल्म सलाम इंडिया निर्देशित की। हालाँकि फिल्म बॉक्स ऑफिस पर जम नहीं पाई लेकिन फिल्म समीक्षकों को सुभाष कपूर की प्रतिभा इस फिल्म में नजर आई.2010 में सुभाष की दूसरी फिल्म फंस गए रे ओबामा का निर्माण किया।

हल्की फुल्की इस कॉमेडी फिल्म को जहां बॉक्स ऑफिस पर सफलता मिली वहीं फिल्म आलोचकों ने भी सराहा। मार्च 2013 में सुभाष कपूर ने अरशद वारसी, अमृता कपूर और बोमन ईरानी को लेकर जॉली एल एल बी को निर्देशित किया। इस फिल्म को बेस्ट फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म अवार्ड मिला तो फिल्म के कलाकार सौरभ शुक्ला को बेस्ट स्पोर्टिंग एक्टर के लिए नैशनल फिल्म अवार्ड मिला। इस के बाद 2015 में गुड्डू रंगीला को भी निर्देशित किया।

2017 में रिलीज हुई उनकी फिल्म जॉली एल एल बी 2 ने भी बॉक्स आफिस  में अच्छी कमाई  के साथ फ़िल्म समीक्षकों की खूब दाद बटोरी थी। सुभाष कपूर ने बताया कि उनकी आगे आने वाली फिल्म का नाम मुगल है जो कि कैसेट किंग गुलशन कुमार के जीवन से प्रेरित  है। सुभाष कपूर ने बताया कि जल्द ही इस फ़िल्म की शूटिंग शुरू हो जाएगी। सुभाष कपूर ने बताया कि शुक्रवार को कुल्लू मनाली जा रहे हैं और वहीं से वापिस मुम्बई चले जाएंगे।

रिपोर्टर – मुनीष सूद

यह भी पढ़ें – विधायक पम्मी ने धखडूमाजरा में सुनी जनसमस्याएं

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams