maheshwar

रघुनाथ मंदिर का अधिग्रहण होने से देव समाज खुश

हिमाचल दस्तक। कुल्लू
अधिष्ठता भगवान रघुनाथ मंदिर अधिग्रहण की प्रक्रिया को सरकर ने रद्द कर दिया है। इसकी सूचना पाकर कुल्लू के देवसमाज में खुशी की लहर दौड़ गई है। पूरा देवसमाज इसकी सूचना सुनकर गदगद हो गया है। भगवान रघुनाथ जी के मुख्य छड़ीबरदार महेश्वर सिंह ने इसे न्याय की जीत बताया है।

शुक्रवार को कुल्लू में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जुलाई 2016 में प्रदेश सरकार ने रघुनाथ मंदिर को ट्रस्ट बनाने का निर्णय लिया था। इसके बाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई और कोर्ट ने अधिग्रहण को लेकर स्टे लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए अधिग्रहण पर रोक लगा दी है।

यह रोक तब तक लगी रहनी थी जब तक सुप्रीम कोर्ट से मामले को लेकर कोई अंतिम निर्णय नहीं आ जाता। उन्होंने कहा कि सरकार ने उन्हें न्याय दिया है। जिसके वह सदैव अभारी रहेंगे। उन्होंने कहा कि यह पूरे देव समाज की जीत है। इसके के लिए उन्होंने प्रदेश सरकार और देवी-देवता कारदार संघ का आभार प्रकट किया है।

उन्होंने कहा कि वीरवार को कसोल और मणिकर्ण के जनप्रतिनिधियों, प्रभावित व ग्रामीणों का एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से कुल्लू के पूर्व विधायक महेश्वर सिंह की अध्यक्षता मिला।

इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने मणिकर्ण घाटी से साड़ा हटाने की मांग की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि मणिकर्ण घाटी से जल्द ही साड़ा को हटाया जाएगा। संभवत: तीसरी कैबिनेट की बैठक में उन क्षेत्रों को ग्रामीण क्षेत्र का दर्जा दिया जाएगा।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams