kamlesh

महिला शक्ति – महिलाएं बन रही आत्मनिर्भर

लोगों को जागरूक करने की है उनमें अद्भुत क्षमता

सोमी प्रकाश भुव्वेटा। चंबा
राजनगर की कमलेश ने पूरे इलाके की तस्वीर बदल दी है। इस महिला की प्रेरणा इतनी कारगर साबित हुई है कि आज राजनगर समेत आसपास के हर परिवार की महिलाएं परिवारिक खर्चों में घर के मुखिया का हाथ बंटाने में सक्षम हैं। अपने क्षेत्र की जनता के लिए प्रेरणास्रोत बन चुकी महिला किसान का नाम है कमलेश ठाकुर। कमलेश ठाकुर लगातार तीन बार अपनी पंचायत की प्रधान रही हैं। वर्तमान में पैरालीगल एडवाइजर हैं।

राजनगर समेत आसपास की जनता के लिए खासकर महिलाओं के लिए प्रेरणास्रोत बन चुकी इस महिला में लोगों को जागरूक करने की अद्भुत क्षमता है। कमलेश ने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद क्षेत्र में कई चीजें पैदा कर दी हैं, जिन्हें जलवायु के हिसाब से पैदा करना नामुमकिन था। कमलेश ने अपनी जमीन पर नई-नई फसलें उगाने के हर प्रयोग किए। एरिया के हिसाब से नई-नई फसलें तैयार करने के इनके तमाम प्रयोग सफल रहे हैं। इनसे प्रेरित होकर अन्य क्षेत्रों के लोगों ने भी वही चीजें पैदा करनी शुरू कर दी हैं।

इससे लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत हो रही है। कमलेश ठाकुर के प्रयासों से जब महिलाएं आत्मनिर्भर बनने लगी हैं तो इनकी सहायता के लिए कृषि विज्ञान केंद्र और प्रशासन ने भी मदद की पहल की है। आज इनके क्षेत्र में महिलाएं जहां अच्छी खेतीबाड़ी कर आत्मनिर्भर बन रही हैं तो वहीं स्वयं सहायता समूहों के जरिए भी अच्छा काम करके अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने में सहयोग कर रही हैं। कमलेश ठाकुर के प्रयासों से राजनगर समेत आसपास के एरिया में दिख रहे बदलाव की हवा को जिले के अन्य एरिया में भी बहाने के लिए इन्हें कई तरह के जागरुकता कार्यक्रम में आमंत्रित किया जा रहा है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams