News Flash
kisan Mela

विधायक जवाहर लाल ने की देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना

ललित ठाकुर। पधर

हिमाचल दिवस के अवसर पर पधर में पांच दिवसीय जिला स्तरीय किसान मेला का शुभारंभ किया गया। विधायक जवाहर लाल ठाकुर ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। इस दौरान आराध्य देव सूत्रधारी ब्रह्मा की अगुआई में आईपीएच रेस्ट हाउस से मेला स्थल तक शोभायात्रा निकाली गई। इसमें लगभग दो दर्जन से भी अधिक देवी-देवता शामिल हुए। विधायक ने देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना कर चादरें भेंट की। वहीं, देव सूत्रधारी ब्रह्मा ने अपने गुरु के माध्यम से देव खेल द्वारा क्षेत्र की सुख शांति, समृद्धि और खुशहाली का आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि सामुदायिक भवन सभी विधानसभा क्षेत्र में बनेंगे, जिसके लिए तीस-तीस लाख का प्रावधान है। उ

न्होंने कहा कि बहुत जल्द मुख्यमंत्री का दौरा करेंगे। क्लस्टर यूनिवर्सिटी के लिए 11 करोड़ रुपये का प्रावधान है। उन्होंने मेला कमेटी के लिए साठ हजार, सोलर लाइट के लिए एक लाख रुपये, दस डस्टबिन देने की घोषणा की भी की। इस दौरान मेला कमेटी अध्यक्ष एवं एसडीएम पधर आशीष शर्मा ने मुख्यातिथि को शॉल टोपी और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। इस दौरान एसेंट पब्लिक सीनियर सेकंडरी स्कूल डलाह पधर, हिम रश्मि सीनियर सेकेंडरी स्कूल डलाह, पब्लिक स्कूल पधर ओर नेता जी सुभाष चंद्र मेमोरियल रावमापा पधर द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए।

वहीं, किसान मेला में कृषि विभाग, बागवानी विभाग, पशुपालन विभाग और स्वयं सहायता समूह ने उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई गई है। विधायक जवाहर ठाकुर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस मौके पर मेला कमेटी अध्यक्ष आशीष शर्मा, डीएसपी पधर मदनकांत शर्मा, अधिशाषी अभियंता आईपीएच राकेश पराशर, एसडीओ विवेक हाजरी, लोनिवि चमन चंदेल, बीडीओ रवि कुमार बैंस, एसएचओ पधर महेंद्र आदि मौजूद रहे।

ये देवी-देवता हुए शोभायात्रा में शामिल

आराध्य देव सूत्रधारी ब्रह्मा, देव गहरी सियुन, देव माहूंनाग फागनी, देव अग्नि पाताल कुन्नू, देव गहरी गरलोग, माता जालपा सरौन, पायदल ऋषि डोलरा, माता चामुंडा द्रंग, देव पायदल शिलग, माता भद्राकाली पधर, देवी जालपा बसेहड़, देवी नवदुर्गा बसेहड़, देव पायदल बसेहड़, देव काली नारायण माना, माता चुतुर्भुजा पाली, माता कामाख्या बाडी, देव शंकर कुन्नू, माता संतोषी सनेड, माता नैना द्रंग, माता कोयला द्रंग, माता नौणी पूंदल, देव जुगडु डलाह आदि कुल तेईस देवी-देवता शोभायात्रा में शामिल हुए।

गोबिंद सागर में डूबे युवक का शव 19 घंटे बाद निकाला बाहर

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams