Kullu Dussehra

CM ने की 6 फीसदी नजराना बढ़ाने की घोषणा

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। कुल्लू 

कुल्लू दशहरे का शुक्रवार को विधिवत समापन हो गया। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा उत्सव के समापन समारोह की अध्यक्षता करते हुए गैर मुआफीदार देवताओं जिनकी भूमि मुज़ारियत अधिनियम में गई थी तथा दशहरा उत्सव में शामिल नहीं हुए देवताओं के प्रतिदिन के धार्मिक कार्यों को करने के लिए 1000 रुपये की राशि देने की घोषणा की। उन्होंने देवताओं के नजराने में 6 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दशहरा उत्सव वैश्विक स्तर पर प्रदेश की समृद्ध संस्कृति का परिचायक है तथा हथकरघा व हस्तशिल्प के प्रचार के लिए भी उपयुक्त मंच है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने सदैव प्रदेश के लोगों के विकास तथा कल्याण के लिए कार्य किए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने स्वास्थ्य क्षेत्र को विशेष प्राथमिकता प्रदान की है। प्रदेश के तीन मेडिकल कॉलेजों में से चंबा तथा नाहन स्थित कॉलेजों को कार्यशील कर दिया गया है। हमीरपुर में मेडिकल कॉलेज के निर्माण कार्य के लिए वन विभाग की स्वीकृति की प्रतीक्षा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस सही मायनों में लोकतंत्र तथा धर्म निरपेक्षता  को बनाए रखने के लिए जानी जाती है।

उन्होंने प्रदेश में परंपराओं, संस्कृति तथा रीति-रिवाजों को बनाए रखने पर भी बल दिया। मुख्यमंत्री ने दशहरा समिति की स्मारिका का भी विमोचन किया तथा मेले केे दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कृत किया। उपायुक्त युनूस खान ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का इस अवसर पर स्वागत किया। देवताओं के नजराने को 6 प्रतिशत बढ़ाने के लिए आभार व्यक्त किया गया। उन्होंने उत्सव को एक सफल आयोजन के लिए सभी का धन्यवाद व्यक्त किया। राज्य आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी संघ के अध्यक्ष डॉ. दिनेश शर्मा ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 4.51 लाख रुपये का चैक भेंट किया।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams