lahaul residents doctor

मुख्य चिकित्सा अधिकारी सहित 11 डॉक्टर छुट्टी पर

उदयपुर-केलांग के SDM के अवकाश होने के कारण प्रशासनिक कार्य भी ठप

हिमाचल दस्तक। केलांग
रोहतांग दर्रा बंद होने के कारण शीत मरुस्थल लाहौल घाटी के कबाइली मरीज आजकल एक अद्द डॉक्टर की तलाश में दर-दर भटक रहे हैं। जनजातीय क्षेत्र में बद से बदतर होती स्वास्थ्य सुविधाओं ने सरकार की तमाम दावों की पोल खोल कर रख दी है। इन दिनों क्षेत्रीय अस्पताल केलांग तथा उदयपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीन 23000 की आबादी केवल 7 डॉक्टरों के हवाले है।

क्षेत्रीय अस्पताल केलांग में जहां विशेषज्ञ समेत 17 चिकित्सकों के पद स्वीकृत हंै, वहां आजकल केवल एक ही डॉक्टर 23000 हजार आबादी को देख रहा है। वहीं राष्ट्रीय बाल सुरक्षा स्कीम के अंतर्गत तैनात दो आयुष डॉक्टर ही दिन-रात ओपीडी भी देख रहे हैं और रात्रि ड्यूटी भी दे रहे हैं। जबकि वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेश जो वीरवार तक सारी जिम्मेदारियां को संभाले हुए थे, उन्हें भी कोर्ट के आदेश पर रिलीव कर दिया गया है। जिला स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार मुख्य चिकित्सा अधिकारी 10 दिसंबर से घाटी के बाहर हैं और कई डॉक्टर परीक्षा के चलते अवकाश पर हैं।

इस बार लाहौल-स्पीति को मंत्रिमंडल में स्थान मिलने पर अब उम्मीद जगी है

डॉक्टर नरेश ने बताया कि सीएमओ सहित 11 डॉक्टरों के घाटी से बाहर होने के कारण अस्पताल प्रबंधन को घाटी में स्वास्थ्य सेवाओं को सुचारु रखने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। गौर है कि सरकारों की बेरुखी के कारण दो दशकों से कबाइली क्षेत्र में कोई भी विशेषज्ञ चिकित्सक की तैनाती नहीं हो पाई है। सरकारों की विवशताओं के कारण लाहौल में हर साल कई लाचार जिंदगियां बेरुखी की शिकार हो जाती हैं।

लेकिन इस बार लाहौल-स्पीति को मंत्रिमंडल में स्थान मिलने पर अब उम्मीद जगी है कि नई सरकार विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती में भेदभाव नहीं करेगी। वहीं, दूसरी ओर अभी तक नए उपायुक्त के पद्भार ग्रहण न करने के कारण भी प्रशासनिक तंत्र अस्त-व्यस्त है। साथ ही उदयपुर तथा केलांग के एसडीएम के भी अवकाश होने के कारण प्रशासनिक कार्य तकरीबन ठप पड़े हुए हैं और स्थानीय जनता को काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams