Ayurvedic Pharmacy

विभाग ने खरीदी है 4.84 करोड़ रुपये की दवाई

हिमाचल दस्तक,शिमला।। प्रदेश में 120 Ayurvedic Pharmacy के लाइसेंस रद हो चुके हैं। राज्य आयुर्वेद विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा अब तक 283 आयुर्वेदिक फार्मेसियों को लाइसेंस तथा 47 को लोन लाइसेंस जारी किए गए हैं।

इनमें से 120 फार्मेसियां बंद हो चुकी हैं। प्रदेश में आयुर्वेदिक अस्पतालों में बेहतर सेवाएं देने के लिए आयुर्वेद विभाग ने गत वित्त वर्ष 4.84 करोड़ की दवाइयां खरीदी हैं। इसमें 1 करोड़ 14 लाख 85 हजार 900 रुपये की राशि केन्द्र सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई गई। वहीं 3 करोड़ 68 लाख 75 हजार रुपये की राशि राज्य सरकार द्वारा प्रदान की गई।

अधिकतर आयुर्वेदिक औषधालय प्रदेश के दुर्गम एवं दूरदराज के क्षेत्रों में कार्यरत

राज्य निधि में से 1 करोड़ 22 लाख 50 हजार रुपये की आयुर्वेदिक औषधियां फार्मेसियों के माध्यम से, 1 करोड़ 80 लाख रुपये की जड़ी-बूटियों की खरीद राजकीय आयुर्वेदिक फर्मेसियों के लिए तथा 8 लाख रुपये की होम्योपैथिक दवाइयों की खरीद की गई। उन्होंने कहा कि दवाइयों के लिए उपलब्ध बजट का 70 प्रतिशत प्रदेश आधारित आयुर्वेदिक फार्मेसियों से दवा खरीद पर व्यय किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अधिकतर आयुर्वेदिक औषधालय प्रदेश के दुर्गम एवं दूरदराज के क्षेत्रों में कार्यरत हैं, जहां स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं की पूर्ति में यह संस्थान महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams