News Flash
surat singh life

पीडि़त परिवार को मदद की दरकार

हिमाचल दस्तक। शिलाई
एक ओर गरीबी दूसरी ओर मंहगाई की मार। ऐसे में दोनों गुर्दे खराब होने से शिलाई गांव का सूरत सिंह (46) जीवन की जंग लड़ रहा है। घर में अन्य कोई कमाने वाला नही पीडि़त परिवार में वृृद्ध माता व पत्नी और छोटे बच्चों के अलावा कोई नहीं है। मदद करने वाला कोई मसीहा अभी तक आगे नहीं आया है।

अनुसूचित जाति से संबंध रखने वाला सूरत सिंह शिलाई पंचायत के वार्ड नंबर दो से पंच मनोनीत है। सूरत सिंह की जिंदगी डायलिसिज के सहारे चल रही है।

पहले शिमला से चेकअप करने के बाद सप्ताह में एक बार डायलिसिज करवाने के लिए जिला अस्पताल नाहन जाना पड़ता है। इससे पूर्व सूरत सिंह के बेटे आठवीं कक्षा में पडऩे वाले 14 वर्षीय प्रकाश की भी दोनों किडनियां खराब होने से मृत्यु हो गई थी, उसके पश्चात उसकी बहन की भी किडनी खराब हो गई जो उपचाराधीन है। अब सूरत सिंह की अपनी किडनियां भी खराब हो गई है पीडि़त परिवार को मदद की दरकार है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams