News Flash
sarveen chaudhary

पहली सितंबर को शहरी विकास मंत्री करेंगी बैठक

हिमाचल दस्तक, राजेश कुमार। धर्मशाला

प्रदेश की राजधानी शिमला की तर्ज पर धर्मशाला के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल मैक्लोडगंज में मॉल रोड़ की तरह साइट विकसित करने की कवायद शुरू हो गई है। इसका खुलासा स्वयं शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी ने किया है। शहरी विकास मंत्री ने इसी उद्देश्य से पहली सितंबर को धर्मशाला में बैठक भी रखी है। बैठक में नगर निगम के मेयर, डिप्टी मेयर, पार्षदों सहित निगम अधिकारी उपस्थित रहेंगे, वहीं होटल एसोसिएशन मैक्लोडगंज ने भी इसके लिए अपनी रुचि दिखाई है।

जानकारी के अनुसार मैक्लोडगंज में दलाईलामा बौद्ध मठ मार्ग को मॉल रोड़ के रूप में विकसित करने की योजना है, इसके लिए पहली सितंबर को रूपरेखा तय की जानी है। इस दिन पहले शहरी विका मंत्री, निगम प्रशासन के साथ मिलकर मैक्लोडगंज का दौरा करेंगी और उसके उपरांत इसी संबंध में बैठक का आयोजन करके आगामी निर्णय लिया जाएगा। गौरतलब है कि मैक्लोडगंज विश्व प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है, जहां वर्ष भर पर्यटकों का आगमन लगा रहता है।

Mcleodganj

तिब्बतियों के सर्वोच्च धर्मगुरु दलाईलामा का निवास होने के चलते यहां विश्व भर के बौद्ध अनुयायी भी आते रहते हैं। दलाईलामा की शिक्षाओं के दौरान तो यहां विभिन्न देशों के बौद्ध अनुयायियों और बौद्ध धर्म में विश्वास रखने वाले लोगों का आना-जाना लगा रहता है। ऐसे में मैक्लोडगंज में मॉल रोड़ की तरह साइट विकसित होने से न केवल पर्यटकों को बेहतर माहौल मिलेगा, वहीं पर्यटन में भी इजाफा होगा।

हिमाचल प्रदेश शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी ने कहा कि धर्मशाला में शिमला के मॉल रोड़ की तरह साइट विकसित करने की योजना है, जिसके लिए 1 सितंबर को धर्मशाला में बैठक रखी गई है। उसी दिन मैक्लोडगंज का विजिट भी किया जाएगा और बैठक करके आगामी निर्णय लिया जाएगा। हमारा प्रयास रहेगा कि इसे दलाईलामा बौद्ध मठ मार्ग पर विकसित किया जाए।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]