Holybath

कुछ लोग डरे सहमे हिमरी गंगा पहुंच रहे है

वही अफवाह की मार झेल रहे है टेक्सी चालक 
ललित ठाकुर । पधर
भादो 20 यानी 4 सितंबर को उपमंडल पधर के सिउन पंचायत में मनाया जाने वाला हिमरी गंगा मेले का पवित्र स्नान सोमवार सुबह चार बजे से शुरू हो गया । बताया जाता है कि ये मेला पिछले कई बर्षो से मनाया जाता है । लेकिन इस बार कोटरोपी की त्रासदी को देखते हुए लोगो ने अफवाह फैलाई थी कि इस बार भादो 20 को कोटरोपी की तरह बड़ी अनहोनी होने वाली है जिस कारण लोग डरे हुए है । जिसकी बजह से हर बार की तरह इस बार लोगो की भीड़ ज्यादा नही दिख रही है । जिस कारण लोग डरे सहमे हिमरी गंगा पहुंचे है ।
वही टैक्सियों चालको के कारोबार पर भी झूठी अफवाह की मार पड़ी है । रविवार रात को श्रद्धालुओ की टोलियां मंदिर में कीर्तन भजन करके सुबह चार बजे पहला पवित्र स्नान करते है । उसके बाद स्नान करने का सिलसिला शुरू होता है और देर रात तक चलता रहता है । बताया जाता है इस पवित्र स्नान का महत्व चौहार घाटी के प्रशिद्ध देव हुरंग काली नारायण से उन्होंने ही अपनी जादू छड़ी से हिमरी गंगा में पानी की जलधारा निकाली थी जो आज भी हिमरी गंगा में जलधारा बह रही है जिस कारण आज भी लोगो मे आस्था का केंद्र बनी हुई है।

मेले के शुरू होने के पीछे की एक पौराणिक गाथा

पधर मुख्यालय से 6 किलोमीटर ऊपर घोघर धार की गोद से निकली जलधारा आज भी विराजमान है । लोगो का कहना है कि पुराने समय मे देव हुरंग नारायण नारला के पास किसी बुढ़िया के पास पशु चराने का काम करता था और वहां से घोघर धार की पहाड़ी में बाकी ग्वाले के साथ पशु चराने के लिए ले जाते थे लेकिन दिन को बाकी ग्वाले अपने पशुओं को पानी पिलाने के लिए नीचे उल्ह नदी पर ले जाते थे लेकिन बालक नारायण अपनी जादू छड़ी से धरती पर छेद कर अपने पशुओं को पानी पिलाता था ।
लेकिन बाकी ग्वालों ने देखा कि नारयण अपने पशुओं को पानी नही पिलाता जिसकी शिकायत बाकी ग्वालों ने उस बुढ़िया से की । बुढ़िया ने शिकायत के बाद नारायण को पीटना शुरू किया । जिसके बाद नारायन ने उस बुढ़िया को घोघर धार की पहाड़ी में ले गया और अपने डंडे से छेद कर धरती से पानी निकाला और नारायण नाम का बालक पानी को खुला छोड़ कर वहां से विलुप्त होकर चौहार घाटी के हुरंग गांव में बस गए जहां आज उनका अदभुत मंदिर स्थापित है । उसके बाद से ही हिमरी गंगा का पवित्र मेला मनाया जाता है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams