महिला ने पंचायत प्रधान को दी इसकी शिकायत

हिमाचल दस्तक,ललित ठाकुर । पधर

पधर उपमंडल की गवाली पंचायत के सरवाला गांव में तीन प्रवासी महिलाएं एक घर मे घुस गई। घर के भीतर एक महिला बच्चे सहित सोई हुई थी। जो घबरा गई। तीनों प्रवासी महिलाएं मेकअप करके किन्नर बनी हुई थी। जो बाद में मकान के भीतर सोई महिला को देख एकदम बाहर निकल गई और बधाई देने का नाटक करने लग पड़ी।

रक्षा देवी पत्नी महेंद्र सिंह ने बताया कि तीनों महिलाएं इस घर मे बच्चा हुआ है। हम बधाई लेकर जाएंगे इस तरह का नाटक करने लगी।
ऐसे में महिला ने इस बात की जानकारी ग्रामीणों को दी। गांव की महिलाओं के इकट्ठा होते ही तीनो प्रवासी महिलाएं फरार हो गई। आस पड़ोस के गांव में भी एकदम दहशत का माहौल बन गया।

बच्चे पकड़ने वाला गिरोह बता कर दूरदराज के गांव में अफरातफरी मच गई।सरवाला गांव की महिलाओं ने पीछा किया तो पाया कि एक प्रवासी परिवार गवाली के समीप नाले के ऊपर टेंट लगा कर रह रहा है । जहां सभी प्रवासी महिलाएं और छोटे छोटे बच्चे भी मौजूद थे। जिनमे कोई भी किन्नर नही थी।मामले की जानकारी पंचायत को देने बाद प्रधान मीना ठाकुर भी मौके पर पहुंची।

mandi

पंचायत प्रधान मीना ठाकुर ने पधर पुलिस को मामले की सूचना दी। बाद में पुलिस के आने पर पूछताछ की गई तो महिलाओं ने अपने आप को पंजाब राज्य से सबंधित बताया। महिलाओं ने कहा कि वह अपने परिवार के साथ यहां आई हैं। पुरुष गांव गांव में कंबल और चादरें बेचने गए हैं। पिछले तीन दिनों से यहां रह रहे हैं।

पंजाब बठिंडा का एक प्रवासी परिवार गवाली में काहिकु राम की जमीन में टेंट लगा रखा था। परिवार के पुरुष सदस्य कंबल और चादर आदि बेचने के लिए गांव गांव गए थे। महिलाएं भी इसी कार्य को करती हैं। ग्रामीणों की मांग पर उन्हें यहां से जाने के आदेश दे दिए गए हैं। प्रवासी परिवार का पुलिस थाना में पंजीकरण है। यशवंत सिंह, थाना प्रभारी पधर।

Leave a comment

कृपया अपना विचार प्रकट करें