Mercury reached famous institutions of science and space

राजीव भनोट, ऊना।  हमीरपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद अनुराग ठाकुर द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रम सांसद भारत दर्शन के तहत 40 बच्चों का ग्रुप बेंगलुरु और पुणे जा पहुंचा। जहां उन्हें उनके बौद्धिक विकास में काफी मदद मिल रही है। बता दें कि इस कार्यक्रम के तहत छात्र बेंगलुरु स्थित इसरो इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन पहुंचे। जहां उन्होंने इस अनुसंधान के कार्यों, अंतरिक्ष और सेटेलाइट संबंधित मूल्यवान जानकारियां प्राप्त की।

गौरतलब है कि इसरो ही है जिसने पिछले साल एक साथ 104 सेटेलाइट अंतरिक्ष भेजकर कीर्तिमान स्थापित किया था। भारत के ऐसे गौरवशाली अनुसंधान में पहुंचकर बच्चे काफी उत्साहित दिखे। यहां छात्रों को उनके रहस्यमयी सवालों के जवाब भी मिले। इसके बाद छात्र बेंगलुरु स्थित आईआईएससी विश्वविद्यालय पहुंचे। गौरतलब है कि आईआईएससी देश का सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय है। यहां बच्चों का शिक्षा के प्रति रुझान बढ़ा और भविष्य को लेकर उनके कांसेप्ट बेहतर हुए। वहीं दूसरी तरफ पुणे पहुंचे मेधावी छात्र सी-डीएसी (सेंटर फॉर डेवलपमेंट एडवांस्ड कंप्यूटिंग) पहुंचे।
यहां बच्चों को आधुनिक कंप्यूटर, उसकी जरूरतें और काम करने के तरीकों के बारे में पता चला। बता दें कि सी-डीएसी ऐसा सेंटर है जिसने भारत को पहला स्वदेशी सुपर कंप्यूटर दिया है। जिसे परम के नाम से जाना जाता है। छात्रों को इस भारत दर्शन से पता चला कि सुपर कंप्यूटर, परमाणु हथियारों के विकास के लिए सहायता करने में सक्षम माना जाता है। इसके बाद छात्रों को इंटर यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर एस्ट्रोनॉमी और एस्ट्रोफिजिक्स ले जाया गया।
वहां जाकर बच्चों को अंतरिक्ष से संबंधित रोचक जानकारी, आकाशगंगाए और गुरुत्वाकर्षीय तरंगों के बारे में पता चला। सांसद अनुराग ठाकुर द्वारा चलाए जा रहे सांसद भारत दर्शन के जरिए छात्रों को मिल रही रोमांचक जानकारियों से उनमें बेहद उत्सुकता देखने को मिल रही है। साथ ही उनका बौद्धिक विकास भी हो रहा है। इसको लेकर छात्रों ने कहा कि भारत दर्शन से शिक्षा के प्रति हमारा लगाव बढ़ा है और नई जानकारियां मिली हैं, इन सबके लिए हम सांसद अनुराग ठाकुर का आभार व्यक्त करते हैं।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams