News Flash
minor missing

लोकेशन के आधार पर नेपाल भेजी पुलिस टीम

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। धर्मशाला
पुलिस थाना ज्वालामुखी के अंतर्गत दो नाबालिग लड़का व लड़की लापता हैं। छह नवंबर से लापता दोनों नाबालिगों की लोकेशन नेपाल बॉर्डर पर पाई गई है, जिस पर जिला पुलिस ने विशेष टीम गठित करके नेपाल भेज दी है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 6 नवंबर को ज्वालामुखी थाना के अंतर्गत एक लड़की जो 11वीं कक्षा में पढ़ती है और एक नेपाली मूल का लड़का जो कि 9वीं कक्षा का छात्र है, सुबह 4 बजे गायब हो गए थे।

परिवार सदस्यों ने दोनों को ढूंढने के बाद पुलिस थाना में सात नवंबर को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जब छानबीन शुरू की तो दोनों की लोकेशन नेपाल बॉर्डर पर पाई गई, जिस पर जिला पुलिस ने विशेष टीम गठित करके नेपाल भेज दी है। एसएसपी कांगड़ा संतोष पटियाल ने बताया कि गायब हुए बच्चों की लोकेशन के आधार पर एक टीम नेपाल भेजी गई है। स्थानीय पुलिस, नेपाल पुलिस के निरंतर संपर्क में है। शीघ्र बच्चों के सुकुशल मिलने की संभावना है।

चलूण से गायब नाबालिग हमीरपुर में मिली

धर्मशाला। जिला कांगडा की खुडिंया तहसील के अंतर्गत आने वाले गांव चलूण से लापता नाबालिग लड़की हमीरपुर में मिली। नाबालिग लकड़की 31 अक्तूबर को चलूण गांव से गायब हो गई थी। परिजन उसकी तलाश करते रहे, कहीं भी लड़की का पता न चलने पर परिजनों ने 2 नवंबर को खुंडियां थाना में उसकी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई थी। पुलिस द्वारा लड़की को ढूंढने के प्रयास शुरू किए गए तथा पांच नवंबर को लड़की हमीरपुर से मिली।

लड़की को मजिस्ट्रेट के पास ले जाकर उसके बयान लिए गए, जहां लड़की ने बताया कि वह अपने आप घर से गई थी। छानबीन में यह भी पता चला कि यह अपने मामा के घर रामपुर जाना चाहती थी, लेकिन छोटी बच्ची बिना संरक्षक के देख कर बस वालों ने ले जाने से मना कर दिया। एसएसपी कांगड़ा संतोष पटियाल ने बताया कि लड़की की गुमशुदगी की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए लड़की को ढूंढ लिया है।

यह भी पढ़ें – प्रदेश में जल्द दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक बसें

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams