News Flash

कहा, 19 मई मतदान ही नहीं, शहीदों की शहादत को प्रमाण करने का दिन

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। धर्मशाला
लोकसभा सदस्य शांता कुमार ने कहा कि पांच साल में एक बार आने वाला 19 मई का दिन केवल मतदान का ही दिन नहीं है अपितु देश के शहीदों की शहादत को प्रणाम करने का दिन भी है। उन्हीं के बलिदानों से देश आजाद हुआ है। संविधान बना और हमें वोट देने का अधिकार मिला। यह वोट केवल देश के हित के लिए दिया जाना चाहिए किसी और लालच या जात बिरादरी के नाम पर नहीं।

वीरवार को जारी प्रेस बयान में शांता ने कहा कि पीएम नरेंद्र कांग्रेस के विकास में अमीरी चमकती थी और गरीबी सिसकती थी। सुबह की सबसे पहली जरूरत का अनुभव करके करोड़ों शौचालय बने। बहनों की आंखों को लगने वाले धुएं के कष्ट को समझ कर करोड़ों घरों को गैस के चूल्हे दिए। छोटे दुकानदारों को पेंशन देने का निर्णय लिया। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पहले ही साल में विकास की शानदार शुरुआत कर दी। सबसे महत्वपूर्ण देश की बेरोजगारी को दूर करने की योजना, पर्यटन और उद्योग नीति में क्रांतिकारी परिवर्तन किया है।

उसे निवेश के अनुकूल बनाया है। सितंबर माह में धर्मशाला में विश्व भर के निवेशकों का सम्मेलन किया जा रहा है। शांता कुमार ने कहा कि पिछले 6 चरणों के मतदान से पूरा विश्वास हो गया है कि पूरा देश नरेंद्र मोदी को बहुत अधिक मतों से एक बार फिर से प्रधानमंत्री बनाएगा। इस बार की जीत सबसे बड़ी जीत होगी और इस यज्ञ में हिमाचल प्रदेश सबसे आगे रहेगा।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]