mp anurag thakur

कहा, पूर्व सरकार की खोखली थी नीतियां

बंदरों की समस्या का नहीं निकला कोई हल

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
सांसद अनुराग ठाकुर ने प्रदेश में बंदरों के बढ़ते आतंक और उससे किसानों को होने वाली समस्याओं से निजात दिलाने के लिए हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को पत्र लिखकर इस विषय पर ध्यानाकर्षण की अपील की है। अनुराग ठाकुर ने लिखा है कि राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान व अन्य गैर सरकारी संगठनों के अनुसार हिमाचल में बंदरों और अन्य जंगली जानवरों के कारण प्रति वर्ष लगभग 500 करोड़ रुपये मूल्य की फसलों को नुकसान होता है।

इससे रोकथाम के लिए पिछली राज्य सरकार द्वारा बनाई गई नीतियां केवल दिखावा मात्र ही रही हैं। एक दशक पहले से भी केंद्र सरकार ने इस समस्या पर एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया था। समिति ने सार्वजनिक स्थानों पर बंदरों के नियंत्रण के लिए कार्य योजना प्रस्तुत की जिसमें समस्या के व्यापक समाधान शामिल थे।

उन्होंने जयराम ठाकुर ने कहा कि मैं आपकी सरकार से उस कार्य योजना को देखने और हिमाचल प्रदेश के लिए एक विशेष कार्य योजना का गठन करने का आग्रह करता हूं। इस समस्या को पेशेवर परियोजना प्रबंधन तकनीकों के माध्यम से हल किया जाना चाहिए। सरकार को एक नोडल अधिकारी नियुक्त करना चाहिए जो सरकार की कार्रवाई का नेतृत्व करेगा। मुझे आशा है कि आप हिमाचल प्रदेश के कृषि समुदाय की मदद के लिए सकारात्मक और सक्रिय कार्रवाई करेंगे।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams