barrsar civil hospital

लोगों ने विशेषज्ञ डॉक्टर की सरकार से की मांग

हिमाचल दस्तक। बड़सर
तीन जिलों के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने वाला सिविल अस्पताल बड़ेसर जिसको चुनाव से पहले कांग्रेस सरकार ने सीएचसी से अपग्रेड करके सिविल अस्पताल बनाया था। विधानसभा के चुनाव हुए सात माह हो गए हैं। लेकिन सिविल अस्पताल में मंजूर स्त्री रोग विशेषज्ञ, मेडिसन सहित चाइल्ड विशेषज्ञ डॉक्टरों के पद भरे होने चाहिए। लेकिन सिविल अस्पताल बड़सर में एक भी विशेषज्ञ डॉक्टर सात माह बाद भी नहीं पहुंच पाया है। ऊना बिलासपुर और हमीरपुर जिला के हर दिन 200 से 250 मरीजों का चेकअप यहां रोज होता हैं।

ऊना और बिलासपुर की सीमा के साथ लगते लोग बड़सर में ही अपना चेकअप करवाना आते हैं। क्योंकि बड़सर के बाद बंगाणा और दूसरी ओर बड़सर के बाद शाहतलाई में ही सरकारी अस्पताल है। 20 किलोमीटर के अंदर आने वालों दोनों जिलों के लोग बड़सर में ही अपना इलाज करवाने का सुविधाजनक मानते हैं। क्योंकि उन्हें बंगाणा और शाहतलाई दूर पड़ता है।

सुरेश, पवन, राकेश, अवतार, रमेश, बलवीर का कहना है कि बड़सर में सरकार को विशेषज्ञ डॉक्टरों सहित लैब तकनीशियनों के खाली चल रहे पदों को भी प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र भरना चाहिए। लोगों का कहना है कि बड़सर में सिद्ध शक्ति पीठ में विराजमान बाबा बालक नाथ का मंदिर भी है। जिसमें हर रोज बाबा की पवित्र गुफा के दर्शनों के लिए श्रद्धालु बाहरी राज्यों से आते हैं। इसलिए बड़सर में सभी डॉक्टरों के पदों सहित विशेषज्ञ डॉक्टरों के पद भरने की सख्त जरूरत है।

सरकार शीघ्र भरेगी खाली पद – कालिया

BMO बड़सर हेतराम कालिया का कहना है कि सिविल अस्पताल बड़सर में रिक्त चल रहे विशेषज्ञ डॉक्टरों के पदों के बारे में उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेज दी गई है। पूरी उम्मीद है कि जिस तरह से डॉक्टरों के रिक्त पदों को सरकार ने भर दिया है। अब विशेषज्ञ डॉक्टरों के पदों को भी शीघ्र भर देगी।

यह भी पढ़ें – बड़सर में बंदरों के हमले से महिला घायल

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams