who calendar geeta

विश्व में प्रसिद्ध हुई मंडी जिला के शंकर देहरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में तैनात महिला हेल्थ वर्कर

चेतन लता पहाडऩ। मंडी
खसरा एवं रूबेला टीकाकरण के दौरान नारी सशक्तिकरण की पहचान बनीं महिला हेल्थ वर्कर गीता वर्मा को WHO के कैलेंडर में प्रकाशित किया गया है। गीता वर्मा ने सितंबर में चलाए गए एमआर (मीजल्स एंड रूबेला) कैंपेन के दौरान बाइक पर घूम-घूम कर दुर्गम क्षेत्रों में भी टीकाकरण अभियान को सफल बनाया था। बाइक पर टीकाकरण के लिए जाती हुई गीता वर्मा की तसवीर काफी वायरल हुई थी। फीमेल हेल्थ वर्कर की काम के प्रति लगन की प्रदेश ही नहीं, देश में भी सराहना हुई थी।

इसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन के लिए 2018 के कैलेंडर में गीता वर्मा की तस्वीर प्रकाशित की गई है। खास बात यह है कि गीता वर्मा को जनवरी के पहले पेज में ही जगह मिली है। जिसमें केवल गीता की ही तस्वीर लगाई है। यह पहला मौका है जब मंडी की किसी फीमेल हेल्थ वर्कर को विश्व स्वास्थ्य संगठन के कैलेंडर में जगह मिली है।

अब भी वही लगन

गीता ने जिन गुज्जर परिवारों का टीकाकरण किया वे ज्यादातर जंगलों में ही रहते हैं। जब गीता को इनके बारे में पता चला तो उसने इनके पास पहुंचने के लिए बाइक को ही एंबुलैंस बना लिया। यह परिवार तो पहले टीकाकरण से मुकर गए, मगर जब गीता ने बीमारियों के बारे में बताया तो यह परिवार मान गए। एक महिला तो इतनी भावुक हो गई कि उसने गीता के सिर पर हाथ रखते हुए कहा कि बेटी तुम पहली महिला हो जिसने अस्पताल जंगल में पहुंचा दिया। दीगर है कि गीता ने इन्हें शिकारी के जंगलों के दड़वे से ढूंढा था।

गीता ने घूमंतु गुज्जरों के 48 बच्चों का टीकाकरण किया था। उनके साथ इस अभियान में गीता भाटिया व प्रेमलता भाटिया ने भी पूरा सहयोग दिया और दुर्गम क्षेत्रों में टीकाकरण सफल बनाया। विश्व स्वास्थ्य संगठन के लिए 2018 के कैलेंडर में गीता वर्मा की फोटो प्रकाशित होने पर गीता कहती हैं कि मैं हैरान हूं कि यूएनओ ने मुझे इतना सम्मान दिया।

स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें पांच हजार का इनाम भी दिया था। इस बारे में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी अनुराधा शर्मा का कहना है कि यह गीता की मेहनत और उसकी काम के प्रति समर्पण भावना का नतीजा है। उन्होंने कहा कि उस जैसी महिला हेल्थ वर्कर अगर सभी पीएचसी में हों तो सरकार की कई योजनाएं पात्र लोगों को तक आसानी से पहुंच जाएंगी।

हिमाचल दस्तक ने दी थी भागीदारी

बीते साल सितंबर महीने में मीजल्स एंड रूबेला के टीकाकरण की कवरेज में जंजैहली से विशेष आलेख गीता वर्मा पर छापा गया था। अपनी कामयाबी के लिए गीता ने हिमाचल दस्तक का भी शुक्रिया अदा किया है। उन्होंने कहा कि प्रयास बेशक उसने किया मगर इसकी सार्थकता हिमाचल दस्तक ने लोगों के सामने रखी।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams