News Flash
Police help

चाइल्ड लाइन के समन्वयक ने प्रेसवावार्ता में किया खुलासा

हिमाचल दस्तक। चंबा
किहार सेक्टर में अगर कोई मामला लड़कियों के साथ छेड़छाड़ व दुष्कर्म का सामने आता है, तो वहां की पुलिस का रवैया बिलकुल नकारात्मक रहता है। यह बात चाइल्ड लाइन समन्वयक कपिल शर्मा ने अरोमा पैलेस में एक पत्रकार वार्ता के दौरान कही। वहीं उन्होंने कहा कि जिला के अन्य किसी भी इलाके में बाल संरक्षण से जुड़े मामले को लेकर टीम जाती है, तो वहां पुलिस पूरा सहयोग करती है, लेकिन किहार से उन्हें बेहतर रिस्पांस नहीं मिल पाता है।

उन्होंने कहा कि चाइल्ड लाइन संस्था जिला में बाल मजदूरी, बाल संरक्षण, स्कूल छोड़ चुके बच्चों को स्कूल में दोबारा प्रवेश, बेसहारा बच्चों को संरक्षण कार्य कर रही है। पिछले छह में सात बाल मजदूरी के मामलों को संस्था ने सुलझाया है। उन्होंने कहा कि चाइल्ड लाइन के ओपन हाउस में 1098 टोल फ्री नंबर के बारे में भी जानकारी प्रदान की जा रही है। कपिल ने बताया कि संस्था एक तरफ जहां उक्त मामलों को सुलझा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ जरूरतमंद बीमार बच्चियों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए भी कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि चाइल्ड लाइन चंबा का डीसी चंबा सुदेश मोख्टा, एसपी चंबा डॉ. वीरेंद्र तोमर व एएसपी चंबा वीरेंद्र ठाकुर ने काफी सहयोग किया है। उधर, कपिल शर्मा ने बताया कि हाल ही में चुराह के चिल्ली बाल आश्रम में लड़कियों के साथ हुई छेडख़ानी को लेकर प्रशासन पूरी तरह से सख्त हो गया है। प्रशासन ने आश्रम में रह रही बाकी लड़कियों के भी मेडिकल करवाने को कहा है।

Comments

Coming soon

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams