Now the look of software on illegal occupants

वन विभाग ने तैयार किया पोर्टल 

शिमला। वन विभाग की ओर प्रदेश में वन अतिक्रमण एवं बेदखल करने की प्रक्रिया में पारदर्शिता एवं उत्तरदायित्व लाने के लिए क्षेत्रीय कर्मचारियों के लिए सरल सॉॅफ्टवेयर तैयार किया गया है।

इसमें सार्वजनिक पोर्टल पर कोई भी व्यक्ति अतिक्रमण के मामलों की जानकारी प्राप्त कर सकता है। यह जानकारी पीसीसीएफ अजय शर्मा ने विभाग के सूचना प्रौद्योगिकी प्रभाग की ओर से चलाए जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए दी। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में शिमला व रामपुर वृत्त के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण में संबंधित वृत्तों के वन मंडल अधिकारियों, सहायक अरण्यपालों, वन परिक्षेत्र अधिकारियों व वन रक्षकों को अतिक्रमण के मामलों के डाटा को अपडेट करने संबंधी जानकारी दी गई है।

विभाग द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न सॉफ्टवेयर तैयार किए हैं। इनमें ऑनलाइन वृक्ष कटान की अनुमति, ऑनलाइन वृक्ष परागमन अनुमति और ऑनलाइन भर्ती प्रक्रिया शामिल है। अब रेंज अधिकारियों तक सभी को ऑनलाइन वार्षिक संपत्ति रिटर्न भरने की सुविधा प्रदान कर दी गई है। इस वर्ष प्रौद्योगिकी प्रभाग की ओर से ऑनलाइन विधि से पौधरोपण कार्यों की गतिविधि की निगरानी की गई। इसके द्वारा ज्ञात हुआ कि तीन दिन में 80 हजार लोगों के सहयोग से विभाग ने 17.5 लाख पौधे रोपित किए। उन्होंने कहा कि विभिन्न वृत्तों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को 9 से 16 अक्तूबर तक प्रशिक्षण कार्यक्रम जारी रहेगा।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams