king ghepan

तांदी गांव में अठारह नाग देवता के साथ किया महामिलन

  • महामिलन को देखने के लिए उमड़े हजारों श्रद्धालु
  • पारंपारिक वेशभूषा में सज-धजकर गृहणियों ने किया देवता का स्वागत

हिमाचल दस्तक। केलांग
रविवार को तांदी पुल के समीप लाहुल के अधिष्ठता देवता राजा घेपन तथा देवी भोटी का पट्टन घाटी में दाखिल होने के पूर्व अठारह नाग देवता के साथ महामिलन हुआ। इस महामिलन को देखने के लिए हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी। श्रद्धालु देवताओं के भावनात्मक जुड़ाव को देखकर भाव-विभोर हो गए। समागम में रंग-बिरंगे वस्त्र खडों से सुसज्जित सभाी देवी-देवता ढोल-नगाड़ों की थाप पर एक दूसरे से मेल मिलाप तथा नाचते हुए आलौकिक दृश्य प्रस्तुत कर रहे थे।

लाहुल अराध्य देवता राजा घेपन के स्वागतम में पट्टन घाटी के गांव तांदी को खूब सजाया गया था। तांदी गांव में समस्त गृहणियों ने पारंपारिक वेशभूषा में सज-धज कर अपने अराध्य देव का पुरातन परंपरानुसार स्वागत किया। आवभगत में गदगद देवताओं ने रविवार को दिनभर गांव के प्रत्येक घर जाकर आशीर्वाद दिया।

राजा घेपन के पुजारी जगदीश ने बताया कि राजा घेपन एक दिन के लिए तांदी में रुकेंगे, जहां सुरेंद्र के घर में जागरा अनुष्ठान संपन्न करवाया जाएगा। अठारह नाग देवता के पुजारी सुरेश ने कहा कि अनुष्ठान के बाद देवी-देवताओं के समस्त कारकून, गुर व पुजारी, श्रद्धालुओं के साथ रात भर आग के इर्द-गिर्द नृत्य व जागरण करते हैं। सुरेश के मुताबिक धार्मिक मान्यताएं हैं कि राजा घेपन ज्यों -ज्यों पट्टन घाटी में जाहलमा और उदयपुर की ओर बढ़ते हैं तो घेपन के स्वाभाव में भी परिवर्तन आता है तथा वह ज्यादा उग्र और करामाती हो जाते हैं।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams