government hospitals

आज डॉक्टरों का विरोध-प्रदर्शन, मंगलवार को काले बिल्ले लगाकर मरीजों को किया चेक

एसोसिएशन बोली, वापस लो घुमारवीं के बीएमओ का निलबंन

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
राज्यभर के सरकारी अस्पतालों में बुधवार को सुबह 9.30 से 11.30 तक ओपीडी सेवाएं ठप रहेंगी। इस दौरान विरोध प्रदर्शन में एसोसिएशन मंडी जिला के जंजैहली के थाची ब्लॉक स्थित पीएचसी में महिला डॉक्टर के साथ हुई बदसलूकी और मारपीट के मामले के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग करेगी।

हिमाचल मेडिकल ऑफिसर एसोसिएशन ने कहा कि सरकार घुमारवीं के बीएमओ के निलबंन आदेश को तुरंत वापस ले और निष्पक्ष जांच करवाए, ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। मंगलवार को राज्यभर के अस्पतालों में डॉक्टर्स ने मांग पूरी न होने पर विरोध जताया और काले बिल्ले लगा कर मरीजों को चेक किया। एसोसिएशन ने अब रोष स्वरूप स्वास्थ्य विभाग के सचिव को भी मांगपत्र भेज कर हस्तक्षेप करने और कार्रवाई करने की मांग रखी है।

मंडी जोनल अस्पताल के डॉक्टरों और सिविल अस्पताल जोगिंद्रनगर में चिकित्सकों ने दो घंटे के लिए पेन डाउन हड़ताल रखी। हालांकि इस दौरान आपातकालीन सेवांए जारी रही। इस हड़ताल का असर देखने को मिला और मरीजों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इसके अलावा उपमंडल के अंतर्गत विभिन्न प्राथमिक स्वास्थय केंद्रों में भी इस कारण ओपीडी सेवाएं प्रभावित रही।

डॉक्टरों ने डीसी के माध्यम से सीएम को एक ज्ञापन भी भेजा। डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेंद्र और महासचिव डॉ. विशाल ने कहा कि इस मामले में सरकार ठोस कदम उठाए, ताकि अस्पतालों और सब हेल्थ सेंटरों पर डॉक्टरों को सुरक्षा मिल सके। महिला डॉक्टरों की सुरक्षा को लेकर एसोसिएशन पूरी तरह से चितिंत है।

आरोपी को जल्द करो गिरफ्तार

हिमाचल मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन के प्रदेश महासचिव डॉ. पुष्पेंद्र वर्मा का कहना है कि मंडी जिला में महिला डॉक्टर के साथ हुई मारपीट के आरोपी को शीघ्र गिरफ्तार किया जाना चाहिए। इस तरहं की घटनाओं से डॉक्टर्स में डर का माहौल पैदा हो रहा है। इसका खामियाजा मरीज भुगत रहे हैं।

डॉ. वर्मा का कहना है कि किसी भी हिंसा के मामले को मेडिपेरसो एक्ट के तहत दर्ज नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पहले भी राज्य में डॉक्टर्स के साथ कई वदसलूकी के मामले हो चुके हैं, लेकिन न तो अस्पतालों में पुलिस चौकियां स्थापित हुई हैं और न डॉक्टर्स को काम करने के लिए उपयुक्त माहौल बन पा रहा है। उन्होंने कहा कि जहां भी 24 घंटे चिकित्सा सेवा है, वहां पुलिस की तैनाती होनी चाहिए।

जिला कांगे्रस कमेटी अध्यक्ष ने की भत्र्सना

मंडी। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दीपक शर्मा ने महिला डॉक्टर के साथ छेड़छाड़ व मारपीट की कड़ी भत्र्सना की है। पुलिस दोषी को शीघ्र पकड़े, ताकि महिला को न्याय मिल सके। प्रदेश सरकार को डॉक्टरों की सुरक्षा विशेषकर रात्रि में सुनिश्चित करनी चाहिए, ताकि वे बेखौफ अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर सकें और रात में महिला डॉक्टर के साथ अन्य स्टाफ व एक सुरक्षा कर्मी की उपस्थिति सुनिश्चित करनी होगी।

जनवादी नौजवान सभा ने की निंदा

बालीचौकी। भारत की जनवादी नौजवान सभा क्षेत्रीय कमेटी बालीचौकी ने थाची प्रकरण की निंदा की है। नौजवान सभा ने कहा कि इस मामले की गहनता से जांच होनी चाहिए। यदि सही मायने में मारपीट हुई है तो निश्चित तौर पर दोषी को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। पिछले 4 दिन बीत जाने पर भी पुलिस आरोपी को नहीं ढूंढ पाई है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams