News Flash
Organizing awareness camps for dengue in Nihal

हिमाचल दस्तक। बिलासपुर : जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के बीएमओ मारकंड के तहत ग्राम पंचायत बामटा के निहाल आगंनवाडी केंद्र में डेंगू को लेकर जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के स्वास्थ्य शिक्षक दीप कुमार ने कहा कि सही जानकारी ही डेंगू का बचाव है।

उन्होंने लोगों को डेंगू के लक्षणों की जानकारी देते हुए बताया कि मच्छर काटने के बाद प्रभावित व्यक्ति को 5-7 दिन के बाद डेंगू के लक्षण दिखाई देते हैं। उन्होंने बताया कि अपने घरों के आस पास पानी नहीं खडा होने दें। यदि गढढों में पानी भरा हो तो उन्हें मिटटी से भर दें। तथा खडे पानी में मिटटी का तेल डाल दें। ताकि मच्छरों का लारवा न बन सके। उन्होंने बताया कि बच्चों और 65 वर्ष से ऊपर की आयु वाले व्यक्तियों का विशेष ध्यान रखें। उन्होंने लोगों से डेंगू के प्रति जागरूक होने का आहवान किया है।

अनूप शर्मा

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams