Volvo buses

चार दिन 1300, तीन दिन 1800 रुपये किराया

राज शर्मा। धर्मशाला
मैक्लोडगंज भ्रमण पर आने वाले पर्यटक निजी वॉल्वो बस संचालकों द्वारा मनमाना किराया वसूलने से परेशान हैं। बस संचालक चार दिन 1300, तीन दिन 1800 रुपये किराया वसूल रहे हैं। पर्यटकों को ऑफ सीजन में किराए में राहत की उम्मीद रहती है, लेकिन यहां ऐसा कुछ नजर नहीं आ रहा है। मैक्लोडगंज के लिए बसों के न आने से पर्यटन पर विपरीत असर पड़ रहा है, क्योंकि बसों से उतरने के बाद टैक्सी हायर करने के बजाय पर्यटक मनाली व डलहौजी भ्रमण को तरजीह दे रहे हैं।

निजी वॉल्वो संचालकों की मनमानी से पर्यटक भी परेशान

ऑफ सीजन में निजी वॉल्वो में 900 रुपये किराया लिया जाता है, लेकिन इन दिनों ऑफ सीजन में वॉल्वो में प्रति सीट 1200 से 1300 रुपये किराया लिया जा रहा है, जबकि शुक्रवार, शनिवार व रविवार को यह किराया 1800 रुपये तक कर दिया जा रहा है। होटल उद्यमियों की मानें तो कई बार पर्यटक यहां से वॉल्वो बसों के किराए के बारे में पूछताछ करते हैं और किराया अधिक होने की शिकायत करते हैं। ऐसे में स्पष्ट है कि निजी वॉल्वो संचालकों की मनमानी से पर्यटक भी परेशान हैं, लेकिन इन्हें पूछने वाला कोई नहीं है।

क्षेत्र के लोगों का कहना है कि धर्मशाला में रैली के दौरान तो HRTC बसों को मैक्लोडगंज भेजा जाता है, जबकि नियमित तौर पर चलने वाली बसों के मैक्लोडगंज जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसके लिए हवाला सड़क मार्ग खराब होने का दिया जा रहा है। लोगों का कहना है कि रैली के लिए जाने वाली बसें भी उसी मार्ग से गुजरती हैं, जिस मार्ग से रूटों की बसें जाएंगी, ऐसे में रैली के लिए रियायत देना और नियमित बस सेवों को प्रस्तावित करना सही नहीं है।

धर्मशाला पहुंचने के बाद पर्यटकों को मैक्लोडगंज जाने के लिए टैक्सी हायर करनी पड़ती है, जिसके लिए पर्यटकों को अपनी बसें होने के बावजूद और पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं, जब लोडिड ट्रक मैक्लोडगंज पहुंच सकते हैं तो वॉल्वो व HRTC बसों को मैक्लोडगंज जाने से क्यों रोका जा रहा है। मैक्लोडगंज में बसें न आने के कारण कई पर्यटक धर्मशाला में उतरने के बाद मनाली व डलहौजी का रुख कर रहे हैं। इसकी वजह से मैक्लोडगंज के पर्यटन को खासा नुकसान उठाना पड़ रहा है। प्रशासन को इस दिशा में शीघ्र उचित कदम उठाने चाहिए।
-अश्वनी बाबा, अध्यक्ष, होटल एसोसिएशन मैक्लोडगंज

 

Assembly Election- कांगड़ा नहीं दे रहा किसी को दोबारा मौका

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams