अगले दो दिन खुले रहेंगे भाखड़ा बांध के फ्लड गेट

बीबीएमबी के चेयरमैन डीके शर्मा ने किया दौरा

हिमाचल दस्तक टीम। पंडोह/ नंगल/ नाहन

भारी बरसात के कारण ब्यास नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है। इसके चलते पंडोह, भाखड़ा और जेट ऑन डैम के गेट खोल दिए हैं। बारिश के चलते पंडोह डैम के 3 गेट खोल दिए गए है। डैम प्रबंधन ने झील की फ्लशिंग का काम भी शुरू कर दिया और एक साथ सारा पानी डैम से बाहर छोड़ दिया। इस कारण पंडोह बाजार ब्यास नदी के किनारे स्थित सभी घरों में पानी घुस गया। लोगों को अपने घरों से निकलने तक का समय तक नहीं मिला। कई लोगों का सारा सामान पानी भरने से खराब हो गया।

वहीं भाखड़ा बांध के अध्यक्ष इंजीनियर देवेंद्र कुमार शर्मा ने रविवार को भाखड़ा बांध के जल स्तर और इसके फ्लड गेट के माध्यम से छोड़े जा रहे पानी को लेकर दौरा किया। देवेंद्र शर्मा ने बताया कि भाखड़ा डैम में पानी की आमद 311134 क्यूसिक दर्ज की गई है, जो कम होने के उपरांत फिर बढ़ गया है। भाखड़ा डैम केफ्लड गेट्स के माध्यम से मात्र 19000 क्यूसिक पानी छोड़ा जा रहा है, जो 2 दिनों में भी लगातार छोड़ा जाएगा।

डीके शर्मा ने बताया कि 1680 फुट तक डैम में पानी स्टोर किया जा सकता है, लेकिन वर्तमान समय में स्थिति के अनुसार करीब 1 या 2 फुट पानी को स्टोर किया जा सकता है। भाखड़ा डैम में 1.14 इंच का डिफ्लेक्शन भी दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि पौंग डैम में रविवार सुबह 6 बजे तक बीबीएमबी द्वारा बिजली उत्पादन बंद कर दिया गया है, ताकि पानी की निकासी न हो सके। वहीं सतलुज दरिया का जो पानी ब्यास-सतलुज लिंक के माध्यम से भाखड़ा डैम में आ रहा है, उसको बंद कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि 1988 के बाद यह पहली बार पानी की स्थिति पैदा हुई है, लेकिन विभाग इस पर पूरी तरह चौकस है तथा स्थिति पर पूरी तरह काबू किया जा रहा है। उधर, सिरमौर जिले में हुई मूसलाधार बारिश के चलते गिरी नदी में अधिक पानी होने से जट ऑन डैम पर के सभी गेट खोल दिए गए।

Leave a comment

कृपया अपना विचार प्रकट करें