News Flash
keshav nayak

बीएसएनएल प्रबंधन ठेकेदारों को नहीं कर रहा अदायगी

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने प्रदेश सरकार को कोसा

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। सुंदरनगर
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता केशव नायक ने बताया कि हिमाचल प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार भारत संचार निगम लिमिटेड को बिल्डिंग वर्क सिविल इंजीनियरिंग वक्र्स के लिए जो राशि जमा की है उसका भुगतान हिमाचल प्रदेश के ठेकेदारों को समय पर न होने के कारण ठेकेदारों को आर्थिक संकट पड़ गया है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ठेकेदार यूनियन ने जब प्रदेश के वित्तीय सचिव से बात की तो उन्होंने कहा कि यह विभाग और बीएसएनल का मामला है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के उच्चाधिकारी की न फरमानी इसी बात से दिख जाती है कि प्रदेश की इस समस्या को हल करने के लिए अधिकारी ही अपना पल्ला झाड़ रहे है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में हेल्थ डिपार्टमेंट, टेक्निकल डिपार्टमेंट, एजुकेशन बोर्ड, टेक्निकल एजुकेशन बोर्ड, पुलिस विभाग अन्य विभाग जिन में करीब 600 करोड़ रुपये की राशि से भवनों का निर्माण होना है। प्रदेश सरकार ने उसकी वित्तीय राशि का कुछ अंश डेढ़ सौ करोड़ रुपये केंद्र सरकार के इस निगम में जमा करवा रखे है, लेकिन बीएसएनल की वित्तीय स्थिति ठीक न होने के कारण प्रदेश के छोटे और बड़े ठेकेदारों तथा उपरोक्त विभागों को डर सतारहा है।

उन्होंने कहा कि 6 महीने से ठेकेदारों के वर्क डन के अगेंस्ट जो देय राशि है, वही रुकी पड़ी है। इससे विकास की गति रूक गई है। प्रदेश कांट्रेक्टर व इससे प्रभावित मजदूर लामबंद होने को तैयार है। पांच दिन में अगर हमारी राशि का भुगतान नहीं किया गया तो बीएसएनएल के सीएमडी मुख्य अभियंता और प्रदेश में उच्च अधिकारियों के विरोध में पुतले फूंके जाएंगे।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams