Murder Case

17 अगस्त को CBI ने न्यायालय में देना है जवाब

हिमाचल दस्तक ब्यूरो, शिमला।। Kotkhai Murder Case को एक माह बीत जाने के बाद भी जस का तस बना हुआ है। मदद सेवा संस्था की अध्यक्ष तनुजा थापटा का कहना है कि बेशक इस मामले की जांच अब CBI के पास है लेकिन कोई दो राय नहीं है कि अब तक आरोपियों की सही पहचान तक नहीं हो पाई है।

उसी का परिणाम है कि सीआईडी भी इस प्रकरण को सुलझाने के लिए कोर्ट से पूर्व में तीन माह का समय मांग चुकी है। जबकि हाईकोर्ट ने इस मामले में इसी माह 17 अगस्त को सीबीआई को सभी तथ्य कोर्ट में रखने के आदेश दिए हैं। जिसे देखते हुए अब हर किसी की निगांहे पर है लेकिन जांच हाथ में लेने से लेकर अब तक सीआईडी द्वारा इस प्रकरण में कोई खुल्लासा नहीं किया गया। जिसके चलते न केवल जान गवाने वाली बच्ची के परिवार में बल्कि उनके अन्य लोगों में बेचैनी है।

पीडि़ता के परिवार व रिश्तेदारों का मिल रहा है पूरा सहयोग

ऐसे में लोगों की मुख्य चिंता यही है कि कहीं CBI भी इस प्रकरण को पुलिस की ही तरह तोड़ मरोड कर न रख दे। उक्त स्थिति को देखते हुए ही मदद सेवा संस्था और अप्पर यूथ एसोसिएशन के साथ जुड़ी विभिन्न संस्थाएं सीधे तौर पर CBI पर इसमें चुप्पी तोड़ो आंदोलन चलाए हुए हैं। जिसमें पीडि़ता के परिवार व रिश्तेदारों का भी पूरा सहयोग मिल रहा है।

संस्था प्रतिदिन इस आंदोलन के मकसद से शिमला के माल रोड स्थित रेलवे भवन के बाहर मुंह पर काली पट्टियां बांध पर प्रदर्शन कर रहे हैं और उन्हें उम्मीद है कि CBI इस पूरे प्रकरण में कोई कदम उठाने से पूर्व आमजन के साथ अपनी कार्रवाई का खुल्लासा करेंगे। जिससे कि लोगों में बनी अनिश्चितता और अविश्वास का अंत हो और बिटिया को इंसाफ मिल सके।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams