News Flash
IGMC Shimla

आईजीएमसी में बनेगा नया लेवल वन ट्रामा सेंटर

फिलहाल नए ओपीडी भवन में शुरू होगा यह केंद्र

फिर 5 करोड़ के 6 मंजिला नए भवन में शिफ्ट होगा

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला

राज्य में सड़क हादसों के घायलों को अब इलाज के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। ऐसे मरीजों के इलाज के लिए अब शिमला में ही एल वन ट्रामा सेंटर खुलेगा। ट्रामा सेंटर के बनने के बाद ऐसे मरीजों का तुरंत उपचार हो सकेगा।

ट्रामा सेंटर खुलने से प्रदेश में दुर्घटना होने और गिर जाने पर सिर में चोट लगने वाले गंभीर मरीजों को अब पीजीआई के लिए रेफर नहीं करना पड़ेगा। आईजीएमसी में पिछले कई साल से एक ट्रामा सेंटर बनाने की मुहिम चल रही थी, लेकिन स्थान फाइनल न होने के कारण इसमें देरी हुई। काफी समय कागजी कार्रवाई पूरी करने में लग गया। अब सभी विभागों से एनओसी मिलने के बाद आईजीएमसी में ट्रामा सेंटर के नए भवन का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

आईजीएमसी की ओपीडी के पास ही करीब पांच करोड़ की लागत से नया 6 मंजिला भवन ट्रामा सेंटर के लिए बनेगा। इसमें मरीजों को सभी तरह की मूलभूत सुविधाएं मिलेंगी। इसमें अलग स्टाफ तैनात किया जाएगा। इसके अलावा यहां पर अलग-अलग मेजर और माइनर ओटी चलेंगी। ऑक्सीजन कंट्रोल यूनिट, इमरजेंसी केयर यूनिट, वेंटिलेटर, ब्लड बैंक, सीटी स्कैन, एमआरआई, डिजिटल एक्स-रे, कलर डॉप्लर, माइक्रोबायोलॉजी लैब सहित सभी इमरजेंसी सुविधाएं मौजूद होंगी।

नए ओपीडी भवन में शुरू होगा ट्रामा सेंटर: डॉ. जनक राज

आईजीएमसी के एमएस डॉ. जनकराज ने कहा कि प्रदेश सरकार और हाईकोर्ट के निर्देश पर लेवल वन का ट्रामा सेंटर स्थापित किया जा रहा है। इसके लिए नए भवन का निर्माण किया जा रहा है। जब तक नया भवन तैयार नहीं होता है, तब तक आईजीएमसी के नए ओपीडी ब्लॉक के धरातल और प्रथम मंजिल को ट्रामा सेंटर के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा। इसे सुचारू रूप से चलाने के लिए सभी उपकरण खरीद लिए गए हैं। जल्द ही नए ओपीडी भवन में सेंटर स्थापित किया जाएगा।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]