News Flash
plane hijacked

सुरक्षा एजेंसियों ने विमान और यात्रियों की सुरक्षा के लिए की मॉक ड्रिल

हिमाचल दस्तक। कुल्लू
भुंतर एयरपोर्ट में प्लेन हाईजैक की मॉक ड्रिल की गई। कार्यक्रम एयरपोर्ट निदेशक एए अंसारी की अगुआई में हुआ तो कुल्लू के उपायुक्त यूनुस खान, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, सीआएसएफ कमाडेंट रंजन कुमार सहित विभिन्न आपात विभागों के अधिकारी विशेष तौर पर मौजूद रहे। एयरपोर्ट निदेशक के निर्देशों के बाद सीआईएसएफ के जवानों ने अभ्यास का आगाज किया। उन्होंने इस मौके पर भुंतर एयरपोर्ट में यात्रियों की सुरक्षा के इंतजामों के बारे में भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी।

इस दौरान एयरपोर्ट में बम और अन्य खतरनाक हथियारों से यात्रियों को कैसे बचाया जाए, का प्रदर्शन किया गया साथ ही आतंकवादियों द्वारा विमान के हाईजैक होने के पर किए जाने वाले रैस्क्यू ऑपरेशन का अभ्यास भी जवानों ने किया। इस मौके पर उपायुक्त कुल्लू यूनुस ने कहा कि भुंतर एयरपोर्ट प्रदेश का सबसे पुराना एयरपोर्ट है और यह पर्यटन के अलावा सामरिक दृष्टि से भी सबसे अहम है।

उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा सबसे जरूरी है ताकि किसी भी यात्री के साथ किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न हो। उन्होंने एयरपोर्ट के प्रबंधों को भी बेहतर बताया और जवानों के प्रयासों को सराहा। एयरपोर्ट निदेशक ने इस मौके पर कहा कि यात्रियों की सुरक्षा के लिए यहां पर हर समय कड़ा घेरा रहता है और किसी भी व्यक्ति को बिना पहचान के एयरपोर्ट में प्रवेश की अनुमति नहीं होती है।

उन्होंने बताया कि जवानों को भी सुरक्षा के लिए अत्याधुनिक उपकरण प्रदान किए गए हैं। वहीं एसपी कुल्लू ने भी एयरपोर्ट की सुरक्षा को बेहतर बताया। इस मौके पर एयरपोर्ट के अन्य अधिकारियों, एयर इंडिया के अधिकारियों सहित विभिन्न विभागीय अधिकारियों ने शिरकत की।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams